रामदुलारी कुमारी@hpbl.co.in

धनबाद: कुछ अलग खाने का मन हो तब आप आलू पूरी जरूर बनाएं। नाश्ते में या फिर टिफिन के लिए इसे बना सकते हैं। सब्जी, रायता, दही और अचार के साथ इसका स्वाद बेहद पसंद आएगा। स्वाद से भरी आलू पूरी इतनी टेस्‍टी होती है कि कई बार लोग बिना सब्जी, रायते के ही इसे खा लेते हैं। ये स्‍वाद में लाजवाब होती है। तो आइए आज जानते हैं कैसे बनाई जाती है आलू पूरी…..

आवश्यक सामग्री

  • गेहूं का आटा- 2 कप (300 ग्राम)
  • आलू- (250 ग्राम) (उबले हुए)
  • हरा धनिया- 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
  • नमक- 1/2 छोटी चम्मच से ज्यादा या स्वादानुसार
  • लाल मिर्च पाउडर- 1/4 छोटी चम्मच
  • हल्दी पाउडर- 1/4 छोटी चम्मच
  • अज़वायन- 1/4 छोटी चम्मच
  • तेल- पूरियां तलने के लिए

बनाने की विधि

  • आलू पूरी बनाने के लिए, उबले हुए आलू को छीलकर मैस कर लीजिए।
  • किसी बड़े से प्याले में गेहूं का आटा लीजिए।
  • इसमें मैस किए हुए आलू डाल दीजिए। साथ ही साथ नमक, अज़वायन (हाथों से मसलकर), हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, और हरा धनिया भी डाल दीजिए।
  • सभी सामग्री को मिला लीजिए।
  • आटे में 2 छोटी चम्मच तेल डाल दीजिए।
  • इसके बाद, इसमें थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए सख्त आटा गूंथकर तैयार कर लीजिए।
  • 15- 20 मिनिट में आटा सैट होकर तैयार है
  • हाथों पर थोड़ा सा तेल लगाइए और आटे को मसल-मसल कर चिकना कर लीजिए।
  • एक लोई उठाकर हथेलियों से मसल लीजिए। इसे गोल-गोल करते हुए हल्के हाथों से पूरी के साइज का बेलकर तैयार कर लीजिए।
  • इसी तरह, सभी लोइयों को बेलकर रख लीजिए।
  • इसके साथ-साथ कड़ाई में पूरियां तलने के लिए पर्याप्त मात्रा में तेल डालकर गरम होने भी रख दीजिए।
  • इसे फुलाने के लिए कलछी से हल्का सा दबा-दबा कर सेक लीजिए। पूरी को पलट-पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक फ्राय कर लीजिए।
  • गरम-गरम आलू मसाला पूरियां बनकर तैयार हैं।

स्वाद से भरपूर गरमागरम आलू पूरी को अचार, दही, चटनी या अपनी मनपसंद सब्जी के साथ परोसिए और मज़े से खाइए व खिलाइए।

नोट:

  • लोइयां मसल-मसल कर गोल और चिकनी ही तैय़ार कीजिए। ये कहीं से कटी-फटी न हों
  • इसमें आलू का प्रयोग किया गया है, जो कि आटे में पानी छोड़ देता है। इस वजह से बाद में आटा नरम हो जाता है। इसलिए पूरी को फुलाने के लिए सख्त ही आटा लगाएं।
  • चकले और बेलन को जरा से तेल से चिकना अवश्य कर लीजिए ताकि पूरी बेलते समय चकले पर न चिपके।
  • पूरी को बेलते वक्त, इस बात का खास ख्याल रखें कि यह एक समान बेली हो। पूरी कही से पतली, कही से मोटी नही होनी चाहिए..

Leave a comment

Your email address will not be published.