पलामू। मनरेगा घोटाले में इंजीनियर और रोजगार सेवक सहित कुल 9 लोगों पर FIR दर्ज की गयी है। जिन लोगों पर मामला दर्ज हुआ है, उसमें असिस्टेंट इंजीनियर, जूनियर इंजीनियर, रोजगार सेवक और 6 हितग्राही शामिल हैं। ये मामला मानव श्रम के बजाय मशीन से काम कराने के मामले में दर्ज किया गया है ।


जानकारी के मुताबिक मनातू प्रखंड के पदमा पंचायत के भीतही गांव में मनरेगा के तहत आम की बागवानी शुरू की गयी थी। इसमें मानव श्रम से काम नहीं कराने की शिकायत मिली, जिसकी जांच करायी गयी। जांच में पाया गया कि बागवानी के लिए खोदे गये 100 गड्ढों को खोदने में जेसीबी मशीन का इस्तेमाल किया गया। मनरेगा लोकपाल ने मनातू बीडीओ से स्पष्टीकरण पूछा था और दोषियों अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया था।

मनातू के प्रखंड विकास पदाधिकारी सुनील प्रकाश ने मनातू थाना में असिस्टेंट इंजीनियर, जूनियर इंजीनियर, रोजगार सेवक, योजना के लाभुक सुरजी देवी, पार्वती देवी, बसंती देवी, ममता कुमारी समेत नौ लोगों खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाया है। आपको बता दें कि अभी तक पलामू में ही 30 से ज्यादा मनरेगा घोटाले में मामला दर्ज हो चुका है। इनमें से कईयों के खिलाफ कार्रवाई भी हो चुकी है।

Leave a comment

Your email address will not be published.