लातेहार। लातेहार दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ने अनुबंधकर्मियों के लिए तो बड़ी बात कही ही, अधिकारियों को भी दो टूक कह दिया। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने प्रदेश में जारी भाषा विवाद पर कहा कि झाऱखंड के अधिकारियों को स्थानीय ज्ञान नहीं है। उन्हें भाषा का ज्ञान होने में वक्त लेकिन झारखंड के अधिकारियों को स्थानीय भाषा सीखना ही होगा।

मुख्यमंत्री ने कड़े शब्दों में कहा कि…..

गुजरात और छत्तीसगढ़ के अधिकारी यहां के लोगों को गुजराती और छत्तीसगढ़ी सीखा देंगे, ये आदिवासी-मूलवासियों के खतरा है। बाहरी लोग यहां के मूलवासी को खत्म कर देंगे। इसलिए स्थानी लोगों को मजबूत करना होगा। मैंने कल ही नियुक्ति दी है, उन्हें बड़ा साहब बनाया है। जिनकी नियुक्ति हुई है, उनमें 95 प्रतिशत स्थानीय है। आदिवासी मूल निवासियों को बचाने के लिए यहां के स्थानीय लोगों को मजबूत होना होगा।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस दौरान सरकार की उपलब्धियों का भी जिक्र किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 250 जिलों में जेपीएससी की परीक्षा क्लियर की गयी। 300 करोड़ का कृषि ऋण दिया गया। हमारी सरकार किसानों और युवाओं को न्याय दे रहीहै। उन्हें मजबूत कर रही है। राज्य की बड़ी आबादी कृषि से जुड़ी है, इसलिए किसानों को मजबूत करना होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.