पटना। बिहार के शिक्षक इन दिनों अधिकारियों के रवैये से नाराज हैं। टीईटी शिक्षक संघ ने निरीक्षण के तरीके पर सवाल उठाते हुए शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव को पत्र लिखा है। पत्र में विद्यालय निरीक्षण के दौरान शिक्षकों के साथ किये जा रहे अपमान जनक व्यावहार पर रोक लगाने की मांग की है। दरअसल पिछले कुछ दिनों अलग-अलग स्कूलों में निरीक्षण के दौरान शिक्षकों का कई वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। इस वायरल वीडियो को लेकर पूरे देश में बिहार की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हुए थे।

अब इसे लेकर शिक्षक संगठन लामबंद होता दिख रहा है। टीईटी शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अमित विक्रम ने कहा है कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए सघन निरीक्षण कार्यक्रम का स्वागत है, लेकिन कई जिलों में निरीक्षण के दौरान अधिकारियों का शिक्षकों के प्रति रूख आपत्तिजनक है। शिक्षकों के साथ अपमानजनक बर्ताव, वीडियो वायरल किया जाना शिक्षकों की छवि खराब कर रहा है।

उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान अधिकारी अपने साथ वीडियोग्राफर और कैमरामैन को लेकर भी जाते हैं और शिक्षकों से बच्चों के सामने सवाल जवाब किया जाता है। अचानक दवाब की वजह से कई शिक्षकों से चूक हो जाती है, उस वीडियो को वायरल कर दिया जाता है और शिक्षकों को बदनाम किया जाता है।

संघ के प्रदेश महासचिव उदय शंकर सिंह ने इस मामले में सरकार से हस्तक्षेप करते हुए अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी करने को कहा है, अगर सरकार की तरफ से इस संबंध में निर्देश नहीं दिया जाता है तो संघ कोर्ट में याचिका दायर करेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.