रोहतास। ….ऐसा बहुत कम ही होता है, जो रोहतास में दिखा। अफसर या तो AC कमरे से निकलते नहीं और निकलते भी हैं तो इंस्पेक्शन के नाम पर खानापूर्ति कर लौट जाते हैं। लेकिन बुधवार को रोहतास के डीएम साहब का दिल जीत लेने वाला अंदाज दिखा। स्कूल इंस्पेक्शन पर आये डीएम ने पहले तो बतौर शिक्षक बच्चों की क्लास ली और फिर बच्चों के साथ ही मिड डे मिल खाने बैठ गये। मिड डे मिल में बुधवार को खिचड़ी और चोखा बना था।डीएम धर्मेंद्र कुमार ने बच्चों के साथ उसी बने खिचड़ी चोखा को खाया।

दरअसल बुधवार को डीएम धर्मेंद्र कुमार राजपुर के उत्क्रमित मध्य विधालय पहुंचे। बच्चों से उन्होंने काफी बातचीत की, उनसे उनकी पढ़ाई के बारे में जानकारी ली और फिर बच्चों के साथ ही बरामदे में बैठ कर मिडडे मिल खाया।    इसी क्रम में उन्होंने राजकीय मध्य विद्यालय लाल बिहारी नगर, मंगरवलिया में बच्चों की अंग्रेजी की कक्षा ली तथा छात्र-छात्राओं को अंग्रेजी का पाठ पढ़ाया.

इधर सेबेया के मिडिल स्कूल में बच्चों के साथ जब डीएम को जमीन पर बैठक चोखा और खिचड़ी खाते लोगों ने देखा तो हैरान रह गये। अब कलेक्टर को इस तरह से साधारण अंदाज में खाना खाते देखा तो डीईओ और अन्य अधिकारियों को भी जमीन पर ही बैठना पड़ा। कलेक्टर ने इस दौरान कुछ स्कूलों में शिक्षकों की कमी पाई, जिसे जल्द दूर करने की बात कलेक्टर ने कही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.