रांची। ….कहते हैं राजनीति का नैतिक पतन हो रहा है। ना शिष्टाचार…ना शैली और ना ही संस्कार….कुल मिलाकर सियासत का सत्यानाश हो रहा है, लेकिन इन सब के बीच कभी-कभी कुछ ऐसी भी तस्वीरें आ जाती है, जिसके बाद ये कहना पड़ता है राजनीति में शिष्टाचार अभी भी बचा है। रविवार को भी एक ऐसा ही नजारा दिखा। झारखंड के मांडर सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी शिल्पी नेहा ने भाजपा की जिस उम्मीदवार गायत्री कुजूर को हराया,….काउंटिंग के बाद जाकर उन्ही के पैर छुकर आशीर्वाद भी लिये। जीते हुए प्रत्याशी को हारे हुए प्रत्याशी का पैर छूते जिस किसी ने भी देखा वो हैरान रह गया।

शिल्पी नेहा पूर्व मंत्री बंधु तिर्की की बेटी है। एक मामले में दोषी पाये जाने के बाद बंधु तिर्की की विधानसभा से सदस्यता रद्द हो गयी थी। उसी मांडर सीट पर आज काउंटिंग हुई। जीत के बाद मतगणना स्थल पर कांग्रेस प्रत्याशी शिल्वी ने शिष्टाचार निभाते हुए भाजपा की गायत्री कुजूर के पैर छुये।

आपको बता दें कि कांग्रेस-जेएमएम ने महागंठबंधन की तरफ से शिल्पी नेहा का को उम्मीदवार बनाया था। आज आये परिणाम में नेहा तिर्की को 95062 वोट मिले, जबकि गंगोत्री कुजूर को 71545 और ओवैसी की पार्टी के देव कुमार धान को 22395 वोट मिले। शिल्पी की जीत पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी बधाई दी है।  

Leave a comment

Your email address will not be published.