उदयपुर।पुलिस विभाग में तो तबादले होते रहते हैं, लेकिन कभी-कभी कुछ ऐसा भी हो जाता है, जो काफी चौका देता है। ऐसा ही मामला राजस्थान के उदयपुर से आया है, जहां पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ कुत्ते का भी तबादला हुआ है। हालांकि ये कुत्ता कोई आम कुत्ता नहीं, बल्कि CID में अपनी सेवाएं दे रहा है। दरअसल उदयपुर जिले के कई थानों में थानाध्यक्ष से लेकर कांस्टेबल स्तर के तबादले किए गए। इसी में एक अनोखा ट्रांसफर ऑर्डर सामने आया। यह ऑर्डर था “मैरी” नाम के एक डॉग का, जोकि दयपुर जिले में सीआईडी के डॉग स्क्वॉड का हिस्सा है।

चौकाने वाली बात ये है कि कुत्ते के ट्रांसफर का बाकायदा ट्रांसफर आदेश अलग से निकाला गया। मैरी की तैनाती भरतपुर जिले में की गयी है। जानकारी के अनुसार, मैरी एक्सप्लोसिव मामले में एक्सपर्ट है। क्राइम स्पॉट पर कई मामलों में हुए खुलासे में मेरी ने अहम भूमिका निभाई है। मेरी डॉग के साथ-साथ उसके हैंडलर का भी भरतपुर जिले में तबादला किया गया है। इसके बारे में जानकारी देते हुए जिला CID टीम के अधिकारी ने बताया कि अब मैरी भरतपुर सीआईडी में तैनात रहेगी।

मैरी एक पुलिसकर्मी की तरह जैसे यहां ड्यूटी दी वैसे ही वहां भी देगी। उदयपुर में आठ साल तक मेरी ने विभाग में काम किया। बता दें कि मेरी की पहली तैनाती यही थी और पहली बार उसका ट्रांसफर किया गया है। मैरी के तबादले के बाद उसे अन्य पुलिसकर्मियों की तरह विदाई दी गई। उसे फूल मालाएं पहनाई गईं। ट्रांसफर होने के बाद डॉग स्क्वायड टीम ने एक संदेश भी जारी किया। इसमें बताया गया कि मैरी का जन्म एक जनवरी 2016 को हुआ था। मैरी द केनल क्लब ऑफ इंडियन द्वारा पंजीकृत श्वान है। मैरी (Retriever Labrador) नस्ल की डॉग है और मेरी बहुत प्रतिभाशाली है। इ

सने प्रशिक्षण केन्द्र पंचकुला हरियाणा आईटीबीपी से प्रशिक्षण प्राप्त कर बैच-2016 में एक्सप्लोसिव श्रेणी में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। मैरी की प्रथम पोस्टिंग उदयपुर में ही हुई थी। अब आठ साल बाद मेरी का पहली बार भरतपुर जोन में ट्रांसफर हुआ है। अब हम सब की यही कामना है कि मेरी स्वस्थ रहते हुए अपनी ड्युटियों को बेहतर ढ़ंग अंजाम देती रहे। अब उदयपुर डॉग स्क्वॉड में तीन डॉग है, जिसमें से दो एक्सप्लोसिव और एक क्राइम के हैं।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...