समस्तीपुर। चुनाव ड्यूटी में तैनात जवान के साथ बड़ी घटना हो गयी। गंगा स्नान के दौरान तीन जवान ड्बने लगे। तीनों जवान असम राइफल्स के बताये जा रहे हैं। डूब रहे जवानों में से दो को तो किसी तरह से बचा लिया गया, लेकिन एक का अब तक कोई सुराग नहीं मिला है। घटना समस्तीपुर के मोहनपुर थाने के जौनापुर गांव की है। लापता जवान की पहचान असम के ढुबरी जिले के विलासी पारा निवासी नोरेन राय के बेटे मिंटू राय के रूप में की गई है।

वहीं, स्थानीय लोगों ने जिन जवानों को डूबने से बचाया है, उनकी पहचान मोन हाजारिवा और दिपून कुमार नाथ के रूप में हुई हैं। तीनों जवान समस्तीपुर में इलेक्शन ड्यूटी के लिए आए थे।जानकारी के मुताबिक असम राइफल्स के जवान मोहिउद्ददीन नगर विधानसभा सभा क्षेत्र में कैंप कर रहे थे। सभी EVM जमा कराने के बाद कैंप लौटे थे। चुनावी प्रक्रिया खत्म होने के बाद तीनों जवान घूमने के लिए निकले थे। इसी दौरान तीनों जवान शाम करीब चार बजे गंगा नदी के जौनापुर घाट पर स्नान करने गए।

प्रशासनिक स्तर पर इस घाट पर स्नान करने को लेकर पाबंदी है। लोगों ने बताया कि स्नान करने के दौरान असम राइफल्स के तीनों जवान डूबने लगे। घाट पर स्नान कर रहे अन्य लोगों ने मोन हाजारिवा और दिपून कुमार को बाहर निकाला, जबकि मिंटू को नहीं बचाया जा सका। नदी से बाहर निकले लोगों ने कैंप पर जानकारी दी, जिसके बाद प्रशासनिक पदाधिकारियों के बीच हड़कंप मच गया। खबर लिखे जाने तक जवान का पता नहीं चल पाया था।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...