पटना। एम्स की नर्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतिका का नाम उषा रानी है, जो पटना के वृंदावन कालोनी में किराये के मकान में रहती थी। पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें मौत का इल्जाम अमित टोप्पो पर लगाया गया है। पुलिस अब इस मामले में जांच कर रही है। परिजनों से पूछताछ के बाद अब इस पूरे मामले से पर्दा उठ सकेगा।

मृतिका उषा पटना के एम्स में पोस्टेड थी। वो फुलवारी शरीफ के वृंदावन कालोनी में किराये के मकान में रहती थी। आज उषा अपने ड्यूटी में नहीं गयी थी। साथियों ने जब पता लगाया तो अपने कमरे में उषा रानी की फंदे में झूलती हुई लाश मिली। पुलिस ने शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सुसाइड नोट में बड़े बड़े अक्षरों में लिखा है..

‘सॉरी मां, सॉरी बाबा, मेरे मरने का कारण सिर्फ अमित टोप्पो है, सन ऑफ शीतल टोप्पो

उषा रानी झाऱखंड के गुमला की रहने वाली है। एम्स में नर्स के तौर पर उसकी पोस्टिंग थी। इस पूरे मामले को लव एंगल से भी जोड़कर देखा जा रहा है। घटना की सूचना परिजनों को दे दी गयी है। परिजनों को शव सौंपने की तैयारी है।

Leave a comment

Your email address will not be published.