मोतिहारी। मोतिहारी में 11 लाख के लूट मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। भारत फाइनेंस बैंक कंपनी के मैनेजर और असिस्टेंट बैंक मैनेजर ने मिलकर लूट की साजिश रची थी। पूर्वी चंपारण के घोड़सहन में पिछले दिनों भारत फाइनेंस बैंक कंपनी में 11 लाख की लूट हुई थी। पुलिस ने इस मामले में फाइनेंस कंपनी के शाखा प्रबंधक और सहायक शाखा प्रबंधक को गिरफ्तार किया है। इन दोनों मिलकर कुछ लोगों से मिलीभगत कर लूट की वारदात को अंजाम दिया था।

गिरफ्तार लोगों के पास से लूटे गए एक लाख 50 हजार रुपया, एक देशी पिस्तौल, दो जिंदा कारतूस, एक बाइक और तीन मोबाइल बरामद किया है. वहीं, सहायक शाखा प्रबंधक घटना के बाद से फरार है. जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. बाइक से आए बदमाशों ने बैंक से मात्र एक लाख 52 हजार की हीं लूट की थी, लेकिन शाखा प्रबंधक ने गबन किए गए 8 लाख रुपया मिलाकर 10 लाख 53 हजार रुपया लूट लेने की बात बतायी थी. 

बता दें कि विगत 19 जुलाई की सुबह घोड़ासहन बाजार में तीन हथियारबंद अपराधियों ने भारत फाइनेंसियल इनक्लूजन लिमिटेड कंपनी के कार्यालय में लूटपाट मचाई थी. बदमाशों द्वारा हथियार के बल पर दस लाख 53 हजार 425 रुपये लूट लिए जाने की बात बतायी गई थी. शाखा प्रबंधक राजेश कुमार तिवारी और सहायक शाखा प्रबंधक ने आपसी मेल मिलाप से बैंक के लगभग आठ लाख रुपया का गबन कर लिया था. जिसको छुपाने के लिए दोनों ने मिलकर कुछ युवकों के सहयोग से साजिश रची.

Leave a comment

Your email address will not be published.