साहिबगंज: रुबिका पहाड़ीन के सिर की तलाश पुलिस को लंबे समय से थी। आखिरकार पुलिस की गहन खोजबीन के बाद रूबीका का सिर मिल गया है। शनिवार की सुबह बोरियो प्रखंड के शिवालय के पास पोखर में मछली मारने के दौरान मछुआरों को किसी का सिर नजर आया। मछुआरों ने इसकी जानकारी बोरियो थाना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मृतका के सिर को कब्जे में ले लिया।

पुलिस पोखर में मिले सिर की पहचान रुबिका के परिजनों से कराएगी। सबसे खास बात यह है कि इस सड़े गले चमड़ी में कान का बाली मौजूद है। पुलिस को शक है कि यह लड़की का है और हो ना हो रूबीका का ही सिर है। जिसे अपराधियों ने रुबिका की हत्या करने के बाद साक्ष्य पाने के लिए पोखर में फेंक दिया होगा। पानी घटने के साथ यह भरकर बाहर दिखाई देने लगा है।

इस बीच सिर की पहचान के लिए दुमका में रूबिका का कई टुकड़ों का पोस्टमार्टम कराया गया था। डीएनए टेस्ट के लिए सैंपल लिया गया था। वही रुबिका के माता-पिता से भी डीएनए मिलाने के लिए बोरियो थाना प्रभारी जगन्नाथ पान ने साहिबगंज जिला सदर अस्पताल पहुंचकर ब्लड सैंपल संग्रह कराया था। सैंपल रांची भेज दिया गया है ताकि डीएनए टेस्ट से पहचान हो सके। फिलहाल पुलिस पोखर से मिले सिर की जांच में जुटी है।