मुजफ्फरपुर । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी भी शाही लीची का स्वाद चखेंगे। मुजफ्फरपुर से शाही लीची की खेफ स्पेशल रेफ्रिजरेटर वाहन से दिल्ली भेज दी गयी है। वैन में 2500 किलो शाही लीची भेजी गयी है। इस शाही लीची का स्वाद राष्ट्रपति और प्रधानमंत्र भी चखेंगे। हर साल मुजफ्फरपुर से शाही लीची की खेप पीएमओ भेजी जाती है।

जिला प्रशासन की तरफ से या खास तरीके से पीएमओ तक पहुंचायी जाती है। एयरकंडीशनर गाड़ी होने की वजह से लीची के खराब होने का खतरा नहीं होता है। पीएमओ के लिए लीची भेजने के लिए खास लीची बगान का चयन किया जाता है। उस लीची को तोड़कर खास माहौल में रखा जाता है, जिसे प्रोसेसिंग के बाद डब्बे में पैक कर पीएमओ के लिए भेजा जाता है।

लीची को तोड़ने से लेकर पैकिंग तक की खास व्यवस्था होती है, जो दिल्ली और पुणे से आयी विशेषज्ञों की निगरानी में पूरा होता है। एमडी ने बताया कि सबसे पहले पीएमओ केलिए ही लीची की खेप भेजी जाती है। उसके बाद अन्य जगहों पर सप्लाई की जाती है। लीची के पल्प से जूस बनाने का काम भी कंपनी के द्वारा किया जाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.