गुमला : जिले की पुलिस ने नक्सलियों द्वारा जंगल में छिपाए गए हथियार को बरामद कर लिया है। पुलिस को हथियार के बारे में गुप्त सूचना मिली थी। जिसके बाद यह कार्रवाई की गई। सूचना के आधार पर गुमला पुलिस और सीआरपीएफ 218 बटालियन की ओर से सर्च ऑपरेशन चलाया गया। घाघरा थाना क्षेत्र के जमगई जंगल के गुटवा जोकारी इलाके में चलाए गए अभियान में पुलिस को प्लास्टिक में बांधकर छिपाए गए हथियार मिले हैं।

मिली जानकारी के अनुसार भाकपा माओवादियों के कमांडर रंथु उरांव और नाजिम अंसारी के दस्ते ने हथियार छुपाया था। ताकि आने वाले दिन में बड़ी वारदात को अंजाम दे सके। लेकिन समय रहते पुलिस को सूचना मिल गई, और तत्काल कार्रवाई करते हुए नक्सलियों द्वारा छिपाए गए हथियार के साथ साथ दर्जनों जिंदा कारतूस और अन्य सामान बरामद कर लिया गया है।

गुमला पुलिस जमगई जंगल सर्च अभियान

एसएसपी अभियान ने बताया कि गुप्त सूचना मिली और तुरंत सीआरपीएफ 2018 बटालियन और जिला पुलिस की एक टीम गठित की गई। इस टीम में बम स्क्वाड व डॉग स्क्वाड को भी शामिल किया फिर सर्च अभियान चलाया। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान हथियार और जिंदा कारतूस बरामद किया है। लेकिन किसी नक्सली की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। उन्होंने कहा कि भाकपा माओवादी दस्ते का हथियार है। अज्ञात नक्सली के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। और नक्सली की गिरफ्तारी को लेकर कई जगह छापेमारी शुरू कर दी गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published.