पटना।JDU विधायक बीमा भारती के बेटे और पति कौ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दोनों की गिरफ्तारी मोकामा पुलिस ने की है। जानकारी के मुताबिक दोनों की गिरफ्तारी आर्म्स एक्ट में किया गया है। पुलिस ने दोनों को आर्म्स एक्ट के मामले में गिरफ्तार किया। बीमा भारती ने आज सदन में भी इस बात की जानकारी मीडिया को दी थी। बीमा भारती के पति अवधेश मंडल और उनके बेटे के खिलाफ आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया गया। पूर्णिया के रुपौली विधानसभा क्षेत्र की विधायक बीमा भारती के पति और बेटे को शनिवार को ही हिरासत में लिया गया था. दोनों को सोमवार को कोर्ट के सामने पेश किया गया है।

दरअसल, बिहार में सोमवार को हुए फ्लोर टेस्ट के दौरान बीमा भारती सदन में मौजूद नहीं थी और वह विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग के दौरान नदारद रहीं. बीमा भारती बहुत देर से विधानसभा पहुंची. उनका फोन भी नॉट रीचेबल था तो उनके अपहरण का केस भी कोतवाली थाने में दर्ज हुआ था. पार्टी सूत्रों का कहना है कि वोटिंग के दौरान उपस्थित नहीं रहने और फोन को नॉट रीचेबल करने के कारण बीमा भारती को पहले नोटिस और फिर जवाब के आधार पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है।

इधर महिला विधायक बीमा भारती ने कहा कि ‘वो पटना आ रही थी तो मेरे पति और बेटे को पुलिस ने उठा लिया। मोकामा थाने में रखे हुए हैं, हम लगातार श्रवण कुमार, अशोक कुमार चौधरी और पार्टी के सभी बड़े नेताओं से कह रहे थे कि हम आ रहे हैं, हमारे पति को रखा गया है लेकिन उन लोगों ने कुछ नहीं सुना।

मीडिया में लगातार हमारे बारे में यह कहा गया कि हम फरार हैं, हम विधानसभा नहीं आ रहे हैं। इससे पहले खबर सामने आई थी कि पटना में कोतवाली थाने में जेडीयू की विधायक बीमा भारती और दिलीप राय के अपहरण की एफआईआर दर्ज कराई गई है। जेडीयू की विधायक बीमा भारती और दिलीप राय के अपहरण की एफआईआर जेडीयू के विधायक सुधांशु शेखर ने दर्ज कराई थी।

उन्होंने आरोप लगाया कि जेडीयू के विधायक डॉ संजीव और तेजस्वी यादव के करीबी ठेकेदार सुनील कुमार राय ने मिलकर दोनों विधायकों का अपहरण किया है।सुधांशु शेखर ने FIR में ये आरोप भी लगाया है कि JDU विधायकों को तोड़ने के लिए 10-10 करोड़ का ऑफर दिया जा रहा था। तेजस्वी के करीबी सुनील कुमार ने ये ऑफर दिया था।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...