रांची। झारखंड में भी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना लागू होगी । राज्य सरकार ने संकेत द दिए हैं कि 15 अगस्त तक झारखंड में पुरानी पेंशन बहाल हो सकती है। मुख्यमंत्री ने महासम्मेलन के मंच से इस बात की घोषणा की, कि 15 अगस्त तक झारखंड में हम पुरानी पेंशन बहाल कर सकें , इसके लिए मुझे आप सभी का सहयोग चाहिए। उन्होंने कहा कि समस्या बहुत है, इन सबके बीच मुझे मुझे थोड़े वक्त की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि काफी व्यस्त कार्यक्रम के बीच आप लोगों के लिए मुझे आना पड़ा है।

मुख्यमंत्री पुरानी पेंशन को बंद करने के मुद्दे पर केंद्र सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार चाहती तो आपलोगों को पेंशन दे सकती थी, पर उसने बंद कर दिया इस राज्य को सबका समर्थन चाहिये।हमारी सरकार आंगनवाड़ी सेविका से लेकर रोजगार सेवक सब के लिए सोचती है।मांडर उपचुनाव की जीत और केंद्र सरकार को लताड़ लगाई, उन्होंने कहा कि यहां राष्ट्रीय स्तर के नेता भी जीत नही दिला सके।आज के वक्त में जीवन कैसे चले ,कैसे सुरक्षित रहे इसकी चिंता हमेशा रहती है। हमारी सरकार कर्मचारियों के बारे में सोचती है।मैं 15 अगस्त तक पुरानी पेंशन लागू करने को लेकर आश्वस्त करना चाहता हूं।


इससे पहले मुख्यमंत्री का मंच पर बुके देकर स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने मंच पर दीप प्रज्वलित कर महासम्मेलन की औपचारिक शुरूआत की। मुख्यमंत्री की मौजूदगी में NMOPS के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय बंधु ने स्वागत उदबोधन दिया। उन्होंने पुरानी पेंशन की जरूरतों और कर्मचारी हित के बारे में मुख्यमंत्री को अवगत कराया। विजय बंधु ने ये भी बताया कि किस तरह से नयी पेंशन स्कीम कर्मचारियों के हित में नहीं है। वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव कार्यक्रम में नहीं आये..

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के कर्मचारियों के हित सदैव झारखंड की सरकार खड़ी है। कर्मचारियों का हित कैसे और बेहतर हो, उसे लेकर सरकार हमेशा पर्यत्नशील है आगे भी कर्मचारी हित में सरकार फैसले लेती रहेगी।


न्यू पेंशन का स्कीम पूरी तरह से शेयर आधारित पेंशन स्कीम थी, जिसका फायदा कर्मचारियों को ना के बराबर मिलता था। वित्तीय जोखिम के साथ-साथ भविष्य की अनुश्चितताएं भी कर्मचारियों को सताती थी। 18 साल के संघर्ष के बाद अब कर्मचारियों को पुरानी पेंशन का अधिकार फिर से मिला है।


आपको बता दें कि पुरानी पेंशन बहाली को लेकर आज NMOPS के बैनर तले पेंशन जयघोष महासम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस महाम्मेलन में शिरकत करने के लिए हजारों की भीड़ राज्य के कोने-कोने से रांची पहुंची है। इस महासम्मेलन में NMOPS प्रमुख विजय बंधु भी पहुंचे हैं। हालांकि पुरानी पेंशन बहाली को लेकर शुरू से ही मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का रूख सकारात्मक रहा है। लिहाजा आज महासम्मेलन में आने वाले हर कर्मचारी के दिल में कहीं ना कही ये उम्मीद जरूर थी कि मुख्यमंत्री उनके लिए जा पुरानी पेंशन बहाली का ऐलान जरूर कर देंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.