"अब मैं विद्वान बन जाऊंगा, तभी लौटूंगा" पढ़ाई के लिए पापा ने डांटा तो बेटा घर छोड़कर भागा, लेटर में लिखी ये बात

जयपुर। आजकल तो बच्चों को पढ़ाई के लिए डांटना भी गुनाह हो गया है। घरवालों ने बच्चे को पढ़ाई नहीं करने पर डांटा, तो वो घर छोड़कर ही भाग गया। यही नहीं, जाने से पहले उसने एक लेटर छोड़ा, जिसमें लिखा था कि “ अब मैं तभी घर लौटूंगा, जब मैं विद्वान आदमी बन जाऊंगा” हालांकि भागने के कुछ घंटों के बाद लड़के को बाहरी दुनिया की हकीकत का अहसास हो गया।

मामला जयपुर के चौमू थाना क्षेत्र का है, जहां 17 साल का एक लड़का घर से भाग गया। इस मामले में छात्र की मां ने रविवार रात चौमूं थाने में FIR दर्ज करवाई। शिकायत में बताया कि उनके पति जयपुर से बाहर रहते है। मां बच्चों के साथ यहां रहती है। उनका नाबालिग बेटा 12वीं क्लास में पढ़ता है। रविवार सुबह करीब 4 बजे नाबालिग बेटा घर छोड़कर चला गया और एक लेटर लिखकर गया है।

मां ने बताया- उसे पढ़ाई नहीं करने पर डांट दिया था। वह अपने सारे डॉक्यूमेंट और 2 हजार रुपए लेकर घर से निकला है। उसका मोबाइल नंबर भी स्विच ऑफ है। उसकी अपने पापा से नहीं बनती है। हम परिवार वालों से भी बेटा कुछ नाराज रहता है।

छात्र ने ये लिखा था लेटर
छात्र लेटर में लिखा- मेरे लिए परेशान मत होना। मैं अच्छा विद्वान आदमी बन गया तो घर पर आ जाऊंगा। मेरे जाने पर मम्मी व बहन-भाई पर किसी भी चीज का आरोप मत लगाना। क्योंकि मैं मेरी मर्जी से गया हूं। मैं 2 हजार रुपए लेकर जा रहा हूं। कोई पूछे तो बता देना पढ़ाई के लिए बाहर भेज दिया है।

सुबह घर छोड़कर जाने के बाद परिजन अपने स्तर पर उसकी तलाश करते रहे। देर शाम तक काफी प्रयास के बाद भी नाबालिग बेटे का पता नहीं चला। सोमवार सुबह करीब 8 बजे गुमशुदा छात्र वापस घर लौट आया। परिजनों ने कॉल कर नाबालिग बेटे के घर लौटने की बताने पर पुलिस ने राहत की सांस ली।

HPBL Desk
HPBL Desk  

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति की हो, खेलकूद की हो, अपराध की हो, मनोरंजन की या फिर रोजगार की, उसे LIVE खबर की तर्ज पर हम आप तक पहुंचाते हैं।

Related Articles

Next Story