रांची। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के माइनिंग लीज आवंटन मामले में चुनाव आयोग आज सुनवाई करेगा। चुनाव आयोग के सामने आज मुख्यमंत्री को पेश हो सकते है। इससे पहले अलग-अलग वजहों से मुख्यमंत्री आयोग के सामने पेश नहीं हो सके थे। माना जा रहा है कि आज या तो खुद मुख्यमंत्री या फिर उनके वकील आयोग के सामने पक्ष रखने के लिए उपस्थित होंगे। इससे पहले तीन बार हेमंत सोरेन के आग्रह पर निर्वाचन आयोग ने सुनवाई की तिथि आगे बढ़ाई थी। राज्यसभा चुनाव में व्यस्तता और वकील के स्वास्थ्य का हवाला देकर चुनाव आयोग से अतिरिक्त वक्त मांगा था।

इससे पहले इस मामले में 14 जून को निर्वाचन आयोग ने निर्देश दिया था कि 28 जून को इस मामले में हर हाल में जवाब देना होगा। आपको बता दें कि भाजपा ने राज्यपाल रमेश बैस को ज्ञापन सौंपकर आरोप लगाया था कि मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए हेमंत सोरेन ने रांची के अनगड़ा में पत्थर खनन लीज लिया था। भाजपा नेताओं ने दावा किया है कि जन प्रतिनिधित्व कानून के उल्लंघन में का मामला है। इसके आधार पर हेमंत सोरेन को विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य ठहराने की मांग की गयी।

इस ममामले में राज्यपाल ने चुनाव आयोग से मंतव्य मांगा था। जिसके बदा चुनाव आयोग ने नोटिस देकर उनका पक्ष पूछा था। आयोग ने चौथी बार सुनवाई के लिए तारीख तय की है। इससे पहले तीन बार अलग-अलग वजह से सुनवाई टलती रही। आज पूरे झारखंड की इस सुनवाई पर नजर होगी। हालांकि अभी तक ये साफ नहीं है कि सुनवाई में मुख्यमंत्री खुद जायेंगे या फिर उनके वकील उपस्थित होंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.