रांची: झारखंड के छात्र जिन्होंने कक्षा 12वीं पास कर ली है अब वे बिना किसी जेईई मेंस (JEE Mains) या एडवांस परीक्षा (JEE Advance) के भी बीटेक कर सकते हैं साथ ही 12वीं छात्र जिन्होंने किसी भी स्ट्रीम में कक्षा प्लस टू उतीर्ण किया है वे सीधे HCL जैसी बड़ी आईटी (Jobs in IT Sector) कंपनी में रोजगार भी प्राप्त कर सकते हैं।

श्रम विभाग व एचसीएल टेक्नोलॉजी स्टाफिक सर्विस प्राइवेट लिमिटेड (Jobs In HCL) के बीच एक सौदे के बाद उम्मीदवारों को यह मौका मिल रहा है

टेस्ट के जरिए होगा चयन

इसके लिए एचसीएल टीएसएस द्वारा एक वर्षीय प्रशिक्षण सह प्लेसमेंट कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसके लिए इसमें पहले निबंधन कराना होगा। इसके बाद 1 घंटे का ऑनलाइन टेस्ट आयोजित किया जाएगा, जिसमें उम्मीदवारों से गणित, अंग्रेजी और रिजनिंग और निबंध लेखन जैसे टेस्ट देने होंगे। इस टेस्ट में सफल होने वाले उम्मीदवारों का ऑनलाइन इंटरव्यू आयोजित किया जाएगा। इसके बाद ही अंतिम रूप से छात्रों का चयन होगा।

1 साल की होगी ट्रेनिंग

चयनित उम्मीदवारों का पहले 6 महीने ऑनलाइन ट्रेनिंग कराई जाएगी। इसमें उम्मीदवारों को कम्यूनिकेशन स्किल्स और टेक्निकल स्किल्स की जानकारी दी जाएगी। ट्रेनिंग के दौरान कंपनी डेटा कॉस्ट के रूप में 650 रुपये प्रतिमाह देती है। पहले 6 महीने की ट्रेनिंग पूरी करने के बाद अभ्यर्थियों को अगले 6 महीने तक इंटर्नशिप प्रोग्राम के लिए किसी भी एचसीएल कार्यालय में जाना होगा।

कितना मिलेगी पैकेज

एचसीएल कार्यालय में उम्मीदवारों को लाइव प्रोजेक्ट पर काम करने का मौका मिलेगा। इस दौरान 10 रुपये मासिक छात्रवृति का भी फायदा मिलेगा। ताकि कहर आय वर्ग के छात्र इस कार्यक्रम में भाग ले सकें। उम्मीदवारों द्वारा एक साल के ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद उन्हें एचसीएल के साथ फुट टाइम बतौर कर्मचारी काम करने का मौका मिलेगा। इस दौरान पहले साल का पैकेज 1.70 लाख से 2.20 लाख रुपये तक हो सकती है।

Leave a comment

Your email address will not be published.