रांची। झाऱखंड में पुरानी पेंशन बहाली का अब बस औपचारिक ऐलान ही होना बाकी रह गया है। मुख्यमंत्री की तरफ से मिले साफ संकेत और वित्त विभाग तैयारी ये बता रही है कि झारखंड में अगले सप्ताह पुरानी पेंशन लागू हो जायेगा। अंदरखाने की खबर ये है कि पिछले दिनों वित्त मंत्रालय ने NPS  और OPS के प्रावधनों और राज्य के खजाने पर उसे लेकर पड़ने वाले बोझ का आकलन कर दिया है। वित्त विभाग की तरफ से पुरानी पेंशन बहाली को लेकर प्रस्ताव भी तैयार किया गया है, जो मंगलवार को राज्य कैबिनेट के समक्ष रखा जायेगा। कैबिनेट की मंजूरी के बाद राज्य सरकार पेंशन नियमावली को लेकर आगे की प्रक्रिया शुरू करेगी।

मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक राज्य सरकार ने वित्तीय भार का आकलन कर लिया है। साथ ही NPS बंद होने से अंशदान की बचत राशि और पेंशन फार्मूले पर भी प्रारंभिक चर्चा कर ली है। कैबिनेट से पास होने के बाद पेंशन लागू करने के फैसले की जानकारी केंद्र सरकार को दी जायेगी और NSDL में जमा राशि को वापस करने का अनुरोध पत्र भेजेगी।

इससे पहले कल NMOPS को पुरानी पेंशन बहाली को लेकर अपनी लड़ाई में उस वक्त बड़ी जीत मिली, जब मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर इस बात के संकेत दे दिये कि “ पुरानी पेंशन बहाली को लेकर अब वादा पूरा करने का वक्त आ गया है” शुक्रवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से NMOPS के प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की थी और प्रदेश में पुरानी पेंशन बहाली की मांग की थी। एनएमओपीएस के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से 2004 के बाद नियुक्त हुए कर्मियों को भी पुरानी पेंशन का लाभ देने की मांग की थी।

इससे पहले बजट सत्र में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने संकेत दे दिया था कि राज्य सरकार पुरानी पेंशन बहाली के बारे में विचार कर रही है। हालांकि JMM के चुनावी एजेंडे में भी पुरानी पेंशन बहाली की मांग थी। अभी तक छत्तीसगढ़ और राजस्थान में पुरानी पेंशन बहाली का ऐलान हो चुका है। अगर झारखंड में भी पुरानी पेंशन बहाली की घोषणा की गयी तो देश का ये तीसरा राज्य होगा, जहां पुरानी पेंशन को बहाल किया जायेगा। हालांकि पश्चिम बंगाल देश का इकलौता राज्य था, जहां NPS लागू नहीं किया गया, वहां शुरू से लेकर अब तक पुरानी पेंशन ही लागू है।

आपको बता दें कि पेंशन के लिए लंबे समय से संघर्ष कर रहे NMOPS ने 26 जून को रांची के मोहराबाली फुटबाल मैदान में जयघोष महासम्मेलन का आयोजन किया है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि है, ऐसे में ये साफ हो चला है कि मंगलवार को मुख्यमंत्री महासम्मेलन के महामंच से पुरानी पेंशन की बहाली का औपचारिक ऐलान करेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.