रांची झारखंड एकेडमिक काउंसिल ने पारा शिक्षक (सहायक अध्यापक) की दक्षता परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी है। जैक(JAC) ने झारखंड शिक्षा परियोजना से पारा शिक्षक के प्रमाण पत्र और उससे जुड़ी सारी खबरें का ब्यौरा मांगा है। जिन शिक्षकों का प्रमाणपत्र सत्यापित हो गया है वही इस आकलन परीक्षा में शामिल हो सकते है। राज्य में कुल 61148 पारा शिक्षक कार्यरत है इनमें से 14042 पारा शिक्षक टेट (शिक्षक पात्रता परीक्षा ) पास है।

टेट (शिक्षक पात्रता परीक्षा) सफल शिक्षक को आकलन परीक्षा में शामिल नही होना होगा। परंतु 47016 शिक्षक को इस परीक्षा में शामिल होना होगा जो टेट पास नही है। इनमे से 25000 पारा शिक्षक के प्रमाणपत्र के सत्यापन प्रक्रिया पूरी हो गई है, बाकि के सत्यापन की प्रक्रिया जोर-शोर से चल रही है। JAC ने सभी जिलों के शिक्षा पदाधिकारी को जल्द सत्यापन का कार्य पूर्ण करने को कहा है।

परिक्षा से पहले जैक द्वारा मॉडल प्रश्न जारी किया जाएगा,ताकि पारा शिक्षक को कोई परेशानी न हो।JAC द्वारा उतीर्ण अंक का निर्धारण कर दिया गया है। जेनरल वर्ग के लिए 40 प्रतिशत और आरक्षित वर्ग के शिक्षक के लिए 35 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होगा। कक्षा एक से पांच के शिक्षकों के प्रश्न का स्तर मैट्रिक और कक्षा छह से आठ के शिक्षकों के प्रश्न स्नातक स्तर पर आधारित होगा।

आपको बता दे कि पारा शिक्षक को सहायक अध्यापक बनाने की मांग लंबे अरसे से चली आ रही थी।हेमन्त सरकार के बनते ही शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने घोषणा की थी कि पारा शिक्षक की समस्या का स्थायी समाधान निकाला जाएगा।

जिसके बाद कई स्तर की वार्ता के बाद नियमावली बनाई गई ,उसी नियमावली के तहत JAC आकलन परीक्षा लेने की तैयारी में जुट गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.