राँची : भारत-द. अफ्रीका के बीच चल रहे एकदिवसीय सृंखला का दूसरा मुकाबला आज रविवार को राँची के स्टेडियम में खेला जाना है। इस मैच के लिए दोनों टीमों के खिलाड़ी और फैंस तैयार है। रविवार को छुट्टी होने के चलते ये सुपर संडे वाला दिन होने वाला है। यह मैच भारत के नज़रिए से काफी महत्वपूर्ण है। सीरीज में भारत 1-0 से पिछड़ा हुआ है। ऐसे में 3 मैचों की इस सृंखला मे भारत इस मैच को जीत कर सीरीज में बने रहने की हरसंभव कोसिस करेगा।

भारत और अफ्रीका के बीच रांची में पहली बार एकदिवसीय मैच खेला जाएगा। इससे पहले अफ्रीका यहाँ भारत के खिलाफ टेस्ट मैच खेल चुका है, जिसमे उसे पारी की हार से सामना करना पड़ा था। बहरहाल भारत यहाँ खेले गए 5 ODI मैच में 2 को जीता है तो वही 2 में हार का सामना करना पड़ा है। 1 मैच रद्द हुआ है। पिछले 2 एकदिवसीय मैच में उसे हार मिली है। भारत यहाँ आखरी वनडे मैच 2014 में ही जीत पाया है। ऐसे में भारत कतई यह नही चाहेगा कि वह इस मैदान पर हार की हैट्रिक लगाए।

भारतीय कप्तान शिखर धवन और कुलदीप यादव को छोड़ अन्य प्लेयर्स यहाँ पहली दफा खेलेंगे। राँचीवासियो को लोकल बॉय ईशान किशन को खेलते देखना चाहेंगे। अगर ईशान इस मैच में खेलते हैं तो वो महेंद्र सिंह धौनी के बाद घर मे खेलने वाले दूसरे क्रिकेटर होंगे।

फील्डिंग में सुधार की जरूरत

पिछले मैच में भारत की हार की प्रमुख वजह उसकी फील्डिंग रही। मैच में भारत ने 4 कैच टपकाये थे, जो उसे जीत से दूर कर गयीं। इसी वजह से कल प्रैक्टिस सेशन में भरतीय टीम ने इस छेत्र पर काफी ध्यान दिया। 5-5 के ग्रुप बना कर टीम ने कैटचिंग प्रैक्टिस की।

पलटवार करने में सक्षम

भले ही भारत इस सीरीज में अपने प्रमुख खिलाड़ियों की अनुपस्थिति में खेल रहा है। परंतु टीम में कई मैच विजेता खिलाड़ी मौजूद है। अफ़्रीकी खिलाड़ी केशव महाराज का भी मानना है कि इस टीम को इंडिया B टीम मानना गलत होगा। भारत के पास इतनी प्रतिभा है कि वो 4-5 अंतरास्ट्रीय टीम खड़ी कर सकता है।