गोड्डा -20.6.22 पुरानी पेंशन वापस लाने के उद्देश्य से गोड्डा जिले के संयोजक डा सुमन ने अपने सभी NPS कर्मी से आह्वान किया और कहा की…..
26 जून को रांची में आयोजित “पेंशन जयघोष महासम्मेलन” में जिला के तमाम एनपीएस कर्मियों की उपस्थिति सुनिश्चित किया जाना सामूहिक जवाबदेही है। यह चंद लोगों के बदौलत कतई संभव नहीं है। आपकी अपनी हक और हुकूत की लड़ाई के लिए जबरदस्त उपस्थिति अनिवार्य है।इस महासंग्राम में तय होगा कि आपका बुढापा कैसा हो ? इसके लिए मुख्यमंत्री का ट्वीट आप लोगों ने देख चुका है। CMO के द्वारा खुला निमंत्रण है कि आप जनसैलाब बनकर उमड़ पड़े और खुशियों का सौगात लेकर वापस जाएं। यदि इस बार भी आप चुक गए तो शायद आने वाला समय आपको कतई माफ न करें। आप उस विजयोत्सव का हिस्सा बने जिसके लिए लोग दशकों से लड़ाई लड़ रहे हैं।


प्रिंट मीडिया में तरह तरह के न्यूज–कभी केन्द्र के बिना पुरानी पेंशन संभव नहीं, कभी 2022 के बाद नियुक्त कर्मियों को ही पुरानी पेंशन आदि -आदि समाचार मिथ्या, झूठ और भ्रामक है। यह न्यूज किन लोगों के द्वारा फैलाया जा रहा है यह आप खुद समझ सकते हैं। जिन लुटेरों का लूट बन्द होने वाला है, जिनके खाता में CPF कटौती का पैसा अब जाने से बन्द होने वाला है, उनकी निंद हराम होने वाली है। ये काफी सशक्त और शक्तिशाली लोग हैं, जो PMO से CMO को प्रभावित कर सकता है। इन लोगों ने भी पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल करने में काफी अरचन पैदा किया है। इसके साथ तथाकथित राजनीतिक लोग भी हैं,जो इस सरकार को श्रेय देना नहीं चाहते हैं । झारखंड की एक मीडिया में छपी खबर भी इसी साजिश का अंग है।
इन भ्रामक प्रचार से बाहर निकलने और “रांची चलो”का नारा बुलंद करते हुए कहा की उमड़ पड़ो– “मोहराबादी मैदान की ओर”जनसैलाब बनकर।

Leave a comment

Your email address will not be published.