हरिद्वार12 मई 2022। एक बुजुर्ग दंपत्ति ने अपने बेटे पर मुकदमा दर्ज कराया है। खास बात ये है कि ये मुकदमा किसी जमीन जायदाद या विवाद की वजह से नहीं, बल्कि पोते-पोती के लिए कराया है। बुजुर्ग का नाम एसआर प्रसाद है। बुजुर्ग दंपत्ति की चाहत है कि उनके घर में किलकारियां गूंजे, लेकिन बेटे-बहु इसकी परवाह नहीं कर रहे हैं।  कोर्ट में दायर याचिका में दंपत्ति ने कहा है कि वो अपने बेटे और बहू से एक पोता या पोती चाहते हैं। पोते-पोती की चाहत इस कदर बुजुर्ग दंपत्ति को है कि उन्होंने बेटे और बहू को एक साल की मोहलत दी है, अगर इस एक साल में पोती या पोता नहीं हुआ तो 5 करोड़ रूपया हर्जाना देना होगा।

दंपत्ति ने अपने बेटे को बड़े लाड़ प्यार से पाला है, उसे अमेरिका में पढ़ाई करायी है। एसआर प्रसाद का कहना है कि अपने बेटे की शादी उन्होंने 2016 में करायी थी। उन्हें उम्मीद थी की जल्द ही उन्हें गोद में पोता या पोती को खेलाने का मौका मिलेगा, लेकिन बेटे और बहू ने उनकी इच्छा की परवाह नहीं की। बुजुर्ग ने अपने बेटे की पायलट की ट्रेनिंग विदेश में करायी थी, वो भी बड़े पोस्ट पर है। वहीं उसकी पत्नी भी नोएडा में बड़ी कंपनी में काम करती है।

बुजुर्ग दंपत्ती का कहना है कि वो सिर्फ पोता या पोती चाहते हैं। एसआर प्रसाद ने कहा कि अब उनके पास पैसे नहीं है। घर बनाने के लिए भी उन्होंने बैंक से लोन लिया है। याचिका में उन्होंने बेटे और बहु से ढ़ाई करोड़ रूपये की मांग की है। इस मामले में हरिद्वार कोर्ट में 17 मई को सुनवाई होनी है।

Leave a comment

Your email address will not be published.