रांची। 26 जून को होने वाले जयघोष महासम्मेलन के लिए NMOPS ने राज्य के सभी शासकीय कर्मचारी संगठनों का सहयोग मांगा है। NMOPS ने ऑल झारखंड पारा मेडिकल एसोसिएशन(AJPMA) के प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार सिंह को पत्र लिखकर सहयोग मांगा है।

पत्र में प्रदेश अध्यक्ष s विक्रांत सिंह लिखा है कि  NMOPS  की तरफ से निरंतर आंदोलन किया जा राह है। जिसमें आपका सहयोग रहा है। आंदोलन के प्रभाव से सरकार के द्वारा NPS मद में निकासी, सरकारी अंशदान का प्रतिशत, परिवारिक पेंशन, ग्रेच्यूटी सहित कई लाभ मिले हैं, लेकिन पुरानी पेंशन की बहाली का मुद्दा यथावत बना हुआ है।झारखंड में पारा मेडिकल स्टाफ के सबसे बड़े एसोसिएशन AJPMA ने पहले ही इस बात का ऐलान किया था कि पुरानी पेंशन बहाली की लड़ाई में एसोसिएशन NMOPS के साथ है। AJPMA के प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह ने कहा कि

“NPS एक कलंक की तरह हर शासकीय कर्मचारियों के दामन पर चिपका है, उसे हर हाल में हमें मिटाना है आज के वक्त में पुरानी पेंशन हर कर्मचारी का हक है। AJPMA हमेशा से पुरानी पेंशन की लड़ाई में NMOPS के साथ रहा है, इस बार भी एसोसिएशन पूरी सक्रियता के साथ पुरानी पे्ंशन बहाली की लड़ाई में अपनी भूमिका निभायेगा। हमारे संगठन के सैंकड़ों कार्यकर्ता रांची पहुंचेंगे और पुरानी पेंशन की आवाज बुलंद करेंगे, मैं एसोसिएशन की तरफ से पत्र जारी कर हमारे सभी सदस्यों को महासम्मेलन में शामिल होने का आग्रह करूंगा”

NMOPS के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत ने AJPMA को लिखे पत्र में कहा है कि

26 जून को बिरसा मुंडा फुटबाल स्टेडियम में पेंशन जयघोष महासम्मेलन आहूत करने का निर्णय लिया गया है। निरंतर संघर्ष एवं संवाद की बदौलत वर्तमान राज्य सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के द्वारा गत विधानसभा सत्र के दौरान राज्यकर्मियों के लिए शीघ्र पुरानी पेंशन बहाली की घोषणा की गयी थी तथा इस कार्यक्रम की सफलता से राज्य में पुरानी पेंशन बहाली का मार्ग प्रस्सत होगा। अत: आपसे आग्रह है कि इस निर्णायक दौर में आहूत इस महासम्मेलन में अपने संगठन के समस्त सदस्यों के साथ प्रतिभाग कर इसे सफल बनाने की कृपा करें।

Leave a comment

Your email address will not be published.