ग्रेटर नोएडा : थाने में युवक की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गयी। आरोप है कि थाने में पिटाई से युवक की मौत हुई है। इस घटना पर मचे बवाल के बाद अब पूरे थाने को ही सस्पेंड कर दिया गया है। मामला ग्रेटर नोएडा के वेस्ट के बिसरख थाना क्षेत्र की चिपियाना चौकी की है। मृतक की पहचान मूल रूप से अलीगढ़ के रहने वाले योगेश कुमार के रूप में हुई है। वह चिपियाना में ही डोनाल्ड पार्टी वर्कशॉप में काम करता था।

दरअसल बिसरख थाना इलाके में पड़ने वाली चिपियाना चौकी में बीती रात युवक को लेकर पुलिसकर्मी आए थे। युवक को एक लड़की के गायब होने के बाद पूछताछ के लिए चौकी लाया गया था। परिजनों का आरोप है कि पुलिस की लापरवाही और मारपीट के चलते युवक की जान गई है। हालांकि पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक युवक ने चौकी के अंदर एक कमरे में फांसी लगाकर जान दी है।

इस मामले में मृतक के भाई ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि मेरे भाई को पुलिस रात में चौकी उठाकर लाई थी। 5 लाख रुपये रिश्वत मांगी थी। मैंने 50 हज़ार दे दिए, 1 हजार रुपये शराब के लिए मांगे गए थे, मैंने वो भी दे दिए। रात 10.30 बजे मैं चौकी के बाहर ही था। मैंने कहा कि 4.50 लाख रुपये सुबह दे दूंगा। पुलिस ने कहा था कि सुबह तुम्हारे भाई को छोड़ देगे। अब मेरे भाई को पुलिस ने फांसी लगाकर मार दिया। हालांकि पुलिस की इस मामले में अलग दलील है।

पुलिस के मुताबिक सुबह 10:00 बजे के आसपास योगेश ने चौकी में बने बैरक के पास सुसाइड कर लिया। युवक के परिजन पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं। जानकारी मिली है कि युवक ने फांसी लगाकर जान दी है। मामले का संज्ञान लेते हुए पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने एडिशनल सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) और डीसीपी सेंट्रल को मौके पर भेजा था। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने घटना का जायजा लिया और उसके बाद सीपी को सूचित किया। जिसके बाद चिपियाना चौकी में हुई घटना का तत्काल संज्ञान लेते हुए बिसरख थाना में मामला दर्ज किया जा रहा है।वहीं, पूरी चौकी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...