गोबिंदपुर(धनबाद)। नुपूर शर्मा के पैगंबर को दिये बयान के बाद देश भर में पिछले शुक्रवार को हिंसक झड़प हुई। खासकर उत्तर प्रदेश और रांची में तो प्रदर्शन ने हिंसा का रूप ले लिया। रांची में तो धारा 144 लगानी पड़ी, इंटरनेट सेवा बंद करनी पड़ी। हालांकि पुलिस की मुस्तैदी से अब हालात सामान्य है, लेकिन पुलिस अब भी कोई खतरा मोल नहीं लेना चाह रही। जगह-जगह पुलिस की मुस्तैदी देखी जा रही है, वहीं संवेदनशील क्षेत्रों में लगातार गश्त चल रही है।

इधर संभावित खतरे को देखकर गोबिंदपुर में भी आज पुलिस ने अपनी चौकसी बढ़ा दी है। गोबिंदपुर बाजार के अलावे उपर बाजार में भी आज गोबिंदपुर पुलिस की तरफ से पुलिस बल को तैनात किया गया है। वहीं आज सुबह से पुलिस ड्रोन कैमरे से संवेदनशील क्षेत्रों पर नजर रख रही है। हालांकि अभी कहीं से भी कुछ भी आक्रोश की खबर नहीं है। गोबिंदपुर पुलिस की तरफ से सुबह 11 बजे ड्रोन कैमरे को गोबिंदपुर बाजार और फिर ऊपर बाजार में उड़ा गया। ड्रोन काफी देर तक संवेदनशील इलाकों के उपर मंडराता रहा। पुलिस और ड्रोन के जरिये लिये गये कैमरे में रिकार्ड फुटेज की पड़ताल कर रही है, हालांकि अब माहौल पूरी तरह से शांत है। पुलिस मुख्यालय का अलर्ट जारी हिंसक घटना की आशंका को देखते हुए पुलिस मुख्यालय ने रांची, जमशेदपुर, धनबाद सहित सभी जिलों के एसपी को अलर्ट किया है। 10 जून को हुई हिंसक झडप के बाद पुलिस ने ऐहितियात के तौर पर सभी जिलों को अलर्ट रहने को कहा है। पुलिस को सीसीटीवी के जरिये भी नजर रखने के निर्देश दिये हैं।

उधर रांची में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। 5300 अतिरिक्त पुलिस बल पुलिस मुख्यालय की तरफ से जिलों को दिये गये हैं। इधर रांची में छह थाना क्षेत्र में 12 बजे से शाम 5 बजे तक निषेधाज्ञा लागू।

छह थाना डेली मार्केट, कोतवाली, हिंदपीढ़ी, डोरंडा,लोअर बाजार और चुटिया थाना क्षेत्र में अगले आदेश तक धारा 144 लागू रहेगा। इन इलाकों में रहनेवाले लोगों को दोपहर 12 से शाम पांच बजे के बीच आवश्यक सामान की खरीदारी के लिए घर से बाहर निकल सकते हैं,लेकिन उनकी संख्या एक साथ चार से ज्यादा नहीं होगी.

Leave a comment

Your email address will not be published.