रांची। धोनी भी ना वाकई में गजब करते हैं। कई फैसलों से करोड़ों फैंस को चौका चुके महेंद्र सिंह धोनी एक बार फिर लोगों को चौका रहे हैं। इस बार चौका रहा है उनके ”घुटने का इलाज”। दरअसल धोनी अपने घुटने का इलाज किसी विदेशी डाक्टर या देश के नामी हास्पीटल में नहीं बल्कि एक वैध से करा रहे हैं। सिर्फ 40 रूपये में इलाज करने वाले इस वैध से उनका इलाज शुरू हो गया है। यूं तो रांची के बेहद ही सुदूर इलाके में वो वैध रहते हैं, लेकिन उनकी चर्चा देश भर में है। कहा जाता है उनके पास घुटने के दर्द का अचूक इलाज है।

वैध वंदन सिंह खेरवार लापुंग के कांतिंग केला के बाबा गलगली धाम के रहने वाले हैं। इनसे इलाज कराने के देश के दूर दराज से लोग आते हैं। खेरवार जड़ी बूटी से इलाज करते हैं और वो दूध में मिलाकर जड़ी मरीजों को पिलाते हैं। घुटनों के दर्द के साथ IPL खेलने वाले धोनी को उनके पिता पान सिंह ने वैध की जानकारी दी थी। धोनी के माता-पिता ने भी इसी वैध से अपना इलाज कराया था, जिसके बाद उनका घुटना दर्द काफी आराम हो गया।

चार से पांच महीने में दर्ज से काफी आराम होने के बाद पिता ने ही धोनी को वैध का पता बताया था। जिसके बाद धोनी वैध खेरबार के आश्रम पहुंचे और चुपचाप अपना इलाज कराया। पहली बार में तो धोनी को कोई नहीं पहचान पाया, लेकिन बाद में वैध की बेटी ने धोनी को पहचाना और फिर उसके बाद अपनी फोटो खिंचवाई। धोनी हर 4-5 दिन में एक बार वैध के पास जाते हैं और 40 रूपये देकर अपना इलाज कराते हैं।

वैध खेरबार तेल और जड़ी बूटी से इलाज करते हैं और अपने हाथों से दवा तैयार करते हैं और खुद अपने हाथों से खिलाते भी हैं। वो हर तरह के दर्द, हड्डी टूटने, जोंडिस, साइटिका, बाबासीर व कैंसर तक की बीमारी का इलाज करते हैं। उनके पास मरीजों की लंबी कतार लगी होती है।

Leave a comment

Your email address will not be published.