शहडोल। महिला रेलवे ड्राइवर ने फांसी लगाकर आत्महहत्या कर ली। महिला रेल ड्राइवर का नाम आरती सोनरिया है। घटना को लेकर विभाग में सनसनी मच गयी है। रेलवे की महिला सहायक लोको पायलट ने अपने किराए के मकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी मकान मालिक ने पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंचकर विवेचना शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार आरती सनोरिया 33 वर्ष निवासी झांसी शहडोल में सहायक लोको पायलट के पद पर पदस्थ थी।

जानकारी के मुताबिक ड्यूटी कर घर लौटी थी। रात में उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुबह जब वह ऑफिस नहीं पहुंची तो रेलवे के अधिकारियों ने फोन लगाया, फोन बंद होने पर अन्य स्टॉफ से जानकारी ली। स्टॉफ के कुछ लोग घर पहुंचे तो कमरा अंदर से बंद था। मकान मालिक ने कमरे के पीछे खिडक़ी से देखा तो आरती सनोटिया फांसी के फंदे में झूल रही थी।

घटना की जानकारी विभाग सहित कोतवाली पुलिस को दी गई। पुलिस घटना स्थल पहुुंचकर शव को फंदे से नीचे उतरवाया व मर्ग कायम कर शव पंचनामा तैयार कर जांच शुरू कर दी है। देर शाम तक आत्महत्या के कारणों की पुष्टि पुलिस नहीं कर सकी है। पुलिस ने बताया कि मृतिका झांसी की रहनी वाली है। 2014 से रेलवे में सहायक लोको पायलट के पद ड्यूटी कर रही थी। युवती अविवाहित थी और चपरा क्वार्टर के पास किराए के मकान में रहती थी। शुक्रवार की रात अज्ञात कारणों से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पुलिस को विवेचना के दौरान कमरे से किसी प्रकार का सुसाइड नोट नहीं मिला है। मृतिका का मोबाइल पुलिस ने जब्त कर लिया है। पुलिस ने बताया कि परिजनों घटना की जानकारी दी गई है, परिजन के आने के बाद शव परीक्षण कराया जाएगा।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...