रांची। नुपूर शर्मा के पैंगबर को लेकर दिये बयान पर देश भर में बवाल मचा है। रांची में जुमे की नावाज के बाद स्थिति तनावपूर्ण बन गया है। जुमे की नवाज के बाद स्थिति तनावपूर्ण बनी, जिसके बाद पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। लखनुऊ में जमकर पत्थरबाजी हुई है, इस पत्थरबाजी में एडीजी और उपायुक्त घायल हो गये हैं।

नुपूर शर्मा और नवीन जिंदल के बयान के बाद आज जुमे की नमाज के बाद अचानक हंगामा बढ़ गया। झारखंड की राजधानी रांची में जमकर बवाल हुआ। आगजनी और पथराव के बाद स्थिति इतनी बिगड़ी की, पुलिस को माहौल नियंत्रित करने के लिए फायरिंग करनी पड़ी। रांची की स्थिति फिलहाल तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है। पुलिस अफसरों की टीम मौके पर है, लेकिन माहौल अभी भी काफी गरम है। इधर प्रदर्शनकारियों ने महावीर मंदिर के पास पत्थरबाजी की, जिसके बाद हिंदूवादी संगठन भी सड़क पर उतर आये । तनाव बढ़ते देख काफी संख्या पुलिस में की टीम मौके पर मौजूद हैं।

पत्थरबाजी की वजह से जान बचाने के लिए लोगों को मंदिर में छुपना पड़ा। वहीं पुलिस ने भीड़ को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज और आंसूगैस के गोले छोड़े गये। पुलिस ने इस दौरान हवाई फायरिंग भी की है। भीड़ ने विधायक अमित यादव की गाड़ी के कांच फोड़ दिये गये। उर्दू लाइब्रेरी और महावीर मंदिर के पास प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी।

रांची में स्थिति नियंत्रण में: डीआईजी
नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के बयान से नाराज एक समुदाय विशेष के लोगों ने आज झारखंड की राजधानी रांची में जमकर बवाल काटा. आगजनी और पथराव किये. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी. डीआईजी अनीश गुप्ता ने कहा है कि हल्का तनाव है, लेकिन स्थिति नियंत्रण में है. पुलिस ने सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया है. वरिष्ठ अधिकारी स्थित को संभालने के लिए जगह-जगह तैनात हैं. भीड़ को तितर-बितर करने की कोशिश की जा रही है.

उपद्रवियों द्वारा किए गए पत्थरबाजी में रांची एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा हुए घायल सेंटेवीटा अस्पताल में इलाज चल रहा है. वहीं पत्थरबाजी में सिटी एसपी, सिटी डीएसपी, कई थाना प्रभारी समेत कई जवान भी हुए घायल हैं.बता दें कि रांची के डेली मार्केट में काफी हंगामा देखने को मिला है. बढ़ती भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा. पुलिस ने जब लाठीचार्ज किया, तो भीड़ की ओर से पत्थर चलाये गये. पत्थरबाजी में पुलिस के कई जवानों को चोट लगी. भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज के बाद हवाई फायरिंग करनी पड़ी. उसके बाद ही भीड़ पर काबू पाया जा सका

Leave a comment

Your email address will not be published.