रांची। इतना बड़ा जुर्म किया है, तो पूछताछ क्यों करते हो ?…..इतना बड़ा जुर्म करते हो तो समन क्यों भेजते हो? सीधे गिरफ्तार कर लो…”…यूं तो झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ED के अफसरों के सामने बोलना था, लेकिन आज वो ED दफ्तर पहुंचे नहीं, बल्कि कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचे और जमकर ED पर निशाना साधा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने निशाना साधते हुए कहा कि ईडी ने एक षड़यंत्र के तहत उन्हें फंसाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि वो झारखंड में संस्कृति के लिए काम रहे हैं, युवाओं के लिए, गरीबों के लिए काम कर रहे हैं, जो विपक्ष को ये रास नहीं आ रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज भी उन्हें छत्तीसगढ़ जाना है। वहां के राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में उन्हें मुख्यमंत्री अतिथि बनाया गया है। ये पूर्व निर्धारित उनका कार्यक्रम है, लेकिन उसके ठीक पहले सुनियोजित तरीके से उन्हें ईडी ने बुलाहट भेज दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि …

अगर मैने इतना ही बड़ा जुर्म किया है, पूछताछ के लिए क्यों बुलाते हो तो गिरफ्तार क्यों नहीं कर लेते,….अगर मैंने इतना बड़ा ही गुनाह किया है तो समन क्यों भेजते हो, सीधे गिरफ्तार क्यों नहीं कर लेते

यहां देखे विडियो …

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने यही नहीं रूके, उन्होंने कहा कि मैंने सुना है कि ईडी आफिस की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है …उन्होंने कहा कि..

आज मैंने सुना है कि ईडी आफिस की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है, वहां फोर्स तैनात कर दिया गया है। अभी तो हमने कुछ किया ही नहीं है, तो इतना डर रहे हो, जिस दिन यहां की जनता अपने पर आ गयी, तो सर छुपाने की जगह नहीं मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने इस दौरान विपक्ष पर भी जमकर निशाना साधा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़ी मुश्किल से 20 साल बाद झारखंड में झारखंडियों की सरकार बनी है। गरीबों की सरकार बनी है, उतने दिनों तक प्रदेश के युवाओं का, लोगों का शोषण किया गया । अब जब आमलोगों के लिए काम हो रहा है, तो ये लोग परेशान करने का काम कर रहे हैं। हम जब यहां के लोगो के लिए अधिकार मांगते हैं, तो ये लोग ईडी और सीबीआई भेजते हैं।