रांची। आज से झारखंड विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो रहा है। पंचम विधानसभा के इस आखिरी सत्र को लेकर भाजपा और सत्ता पक्ष दोनों ने कमर कस रखी है। ये सत्र 2 मार्च तक चलेगा। कानून व्यवस्था, भ्रष्टाचार पेपर लीक का मामला, जमीन घोटाला, पारा शिक्षक सहित कई मुद्दों पर विपक्ष सत्ता पक्ष को घेरने की तैयारी में है। गुरुवार को हुई सर्वदलीय बैठक में भाजपा ने सत्र को बढ़ाने की मांग की।

इधर भाजपा की तैयारी सरकार को पूरजोर तरीके से घेरने की है। नेता प्रतिपक्ष अमर बउरी ने कहा है कि विधानसभा में सत्र भले ही छोटा हो, लेकिन जनता के मुद्दे उठेंगे। जनहित के मुद्दों पर सरकार को घेरा जाएगा। इसको लेकर तैयारी पूरी कर ली गई है। उन्होंने कहा कि क्यों मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना पड़ा। पेपर लीक का मामला, जमीन घोटाला, पारा शिक्षक आदि मुद्दे सदन में उठाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि अबुआ योजना को प्रसारित-प्रचारित करने को लेकर लाखों करोड़ों रुपए खर्च किए गए। लेकिन, लाभुकों के खाते में पैसा नहीं पहुंचा है। कई लोगों को डमी चेक सौंपा गया।सर्वदलीय बैठक में विधानसभा अध्यक्ष रविन्द्र नाथ महतो की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। इसमें मुख्यमंत्री चंपई सोरेन, नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी, एनसीपी से कमलेश सिंह, निर्दलीय विधायक सरयू राय, सीपीआईह एमएल से विनोद सिंह, आजसू से लम्बोदर महतो, राजद से सत्यानंद भोक्ता और कांग्रेस से प्रदीप यादव शामिल हुए।

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...