Alamgir Alam ED Summons ।चुनाव के पहले झारखंड सरकार के मंत्री आलमगीर आलम की मुश्किलें बढ़ गयी है। निज सहायक के नौकर से ठिकाने से मिली करोड़ों की संपत्ति मामले में आलमगीर आलम को ED ने तलब कर लिया है। झारखंड के ग्रामीण विकास मंत्री और कांग्रेस नेता आलमगीर आलम को प्रवर्तन निदेशालय की टीम के सामने मंगलवार को हाजिर होना होगा।

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए 14 मई को तलब किया है। रविवार को यह जानकारी सूत्रों के हवाले से मिली है।  एजेंसी ने पिछले हफ्ते आलम के निजी सचिव संजीव लाल और उनके घरेलू सहायक को उनसे जुड़े एक फ्लैट से 32 करोड़ रुपये से अधिक नकदी जब्त करने के बाद गिरफ्तार किया था। सूत्रों ने बताया कि 70 वर्षीय आलम को धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत अपना बयान दर्ज कराने के लिए मंगलवार को रांची में ईडी के जोनल कार्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा गया है।

मनी लॉन्ड्रिंग की जांच राज्य ग्रामीण विकास विभाग में कथित अनियमितताओं से संबंधित है। पिछले दिनों रांची में कई स्थानों पर छापेमारी कर रही थी, कैश बरामदगी उसी का हिस्सा थी. छापेमारी के दौरान, बेहिसाब कैश को गिनने के लिए कई मशीनें भी लाई गईं, सभी 500 के नोट थे, इसके अलावा, एजेंसी के अधिकारियों ने जहांगीर आलम के फ्लैट से कुछ आभूषण भी बरामद किया. 70 वर्षीय कांग्रेस नेता आलमगीर आलम झारखंड में ग्रामीण विकास मंत्री हैं और राज्य विधानसभा में पाकुड़ सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं.

यह छापेमारी झारखंड ग्रामीण विकास विभाग के पूर्व मुख्य अभियंता वीरेंद्र के राम के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग मामले में चल रही जांच के सिलसिले में थी, जिन्हें पिछले साल गिरफ्तार किया गया था. यह विभाग में कुछ योजनाओं के कार्यान्वयन में कथित अनियमितताओं से जुड़ा था. 

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...