साहेबगंज: “….अगर ED से हमें बुलावाकर ये समझ रहे है कि हम डर जायेंगे, तो ये गलतफहमी ना रहे..सबका जवाब दिया जायेगा…हमें ये दिखाया जा रहा है कि देखो ED कितना ताकतवर है, जब सोनिया गांधी, राहुल गांधी को बुला सकते हैं तो फिर मुख्यमंत्री का क्या चीज है”…. आपकी योजना, आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में शामिल होने साहेबगंज पहुंचे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ED पर जमकर हमला बोला। मुख्यमंत्री ने ED के समन को लेकर तीखा जवाब देते हुए कहा कि विपक्ष ने ED के जरिये षड़यंत्र रच रहा है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि …

अब मुझे और जगहों पर जाना है…और जाना कहां है, विपक्ष के बुलावे पर ED ने मुझे बुलाहट भेजा है। ईडी के जरिये बुलवाकर अगर ये सोचा जा रहा कि मैं डर जाऊंगा तो ये गलतफहमी में ना रहे। ये दिखाने की कोशिश कर रहे है कि देखो ED कितना ताकतवर है, जब सोनिया गांधी-राहुल गांधी को बुला सकते हैं, तो मुख्यमंत्री क्या है। अगर ये सोच रहे हैं कि ऐसा करके मेरी छवि खराब कर देंगे, तो ये गलतफहमी में ना रहे

हेमंत सोरेन यही नहीं रूके, उन्होंने राज्यपाल को भी आड़े हाथों लिया। राज्यपाल रमेश बैस के एटम बम वाले बयान पर तीखा वार करते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि …

यहां के महामहिम तीन चार महीने से एटम बम लिफाफा में बंद करके बैठे हैं। कभी एटम बम वो निकाल तो नहीं पाये, लेकिन मुंह से खूब एटम बम फोड़ रहे हैं, यहां सब षड़यंत्र में शामिल हैं, सब मिले जुले हैं। सभी को जवाब मिलेगा। यहां के नौजवान जवाब देगा, यहां की बेटियां जवाब देगी, यहां के लोग जवाब देंगे।