पलामू। दफ्तर छोड़ BDO ने बंगले में महफिल सजा रखा थी। सामने शराब की बोतल सजी थी और टेबल पर चखना बिखरा था। BDO को नशे में देख स्थानीय विधायक का पारा चढ़ गया और फिर उन्होंने बीडीओ को जमकर लताड़ लगा दी। साथ ही इस मामले में उच्च अधिकारियों से शिकायत की भी बात कही गयी है।इस मामले में उपायुक्त को भी विधायक ने शिकायत की है।

दरअसल स्थानीय विधायक शशिभूषण मेहता मनातू प्रखंड प्रमुख के कार्यालय का उदघाटन करने गये थे। इनोग्रेशन के लिए विधायक जब वहां पहुंचे। तब तक प्रमुख गीता देवी भी पहुंच चुकी थी। लेकिन वहां से बीडीओ-सीओ नदारद थे। विधायक ने प्रखंड कर्मियों से जब दोनों अधिकारियों के बारे में पूछा तो ब्लॉक कर्मी कुछ बताने को तैयार नहीं थे। पूछताछ करने पर बताया गया कि बीडीओ का पास में ही बंगला है, बीडीओ अपने बंगले में हैं। जब विधायक बीडीओ के बंगले में पहुंचे तो बीडीओ सुनील प्रकाश शराब में धुत्त थे। सामने शराब की बोतलें पड़ी थी।

विधायक ने जब बीडीओ को रोका तो वो कहने लगे की, ये शराब नहीं बल्कि लेमन टी है। जबकि सामने ही टेबल पर एक शराब की भरी हुई बोतल रखी थी। बीडीओ को शराब के नशे में देख विधायक गुस्सा से आग बबूला हो गये और उन्होंने बीडीओ को जमकर फटकार लगा दी। वहीं राज्य मुख्यालय में शिकायत की बात कही है। 

बीडीओ पर कार्रवाई की मांग पर विधायक अपने समर्थकों के साथ प्रखंड कार्यालय परिसर में धरने ओर बैठ गए। सभी बीडीओ को निलंबित करने की मांग कर रहे थे। इस दौरान बीडीओ भी वहां मौजूद थे। वे इतने नशे में थे कि ठीक से बैठ भी नहीं पा रहे थे। बीडीओ के साथ-साथ उनके घर से बरामद शराब की बोतलों को भी धरना स्थल पर लाया गया। बीडीओ वहां शराब की बोतल को पहचान भी नही पा रहे थे। इस दौरान मौके पर काफी भीड़ जुट गई। लोग बीडीओ की हालत देख अपनी हंसी नहीं रोक पा रहे थे। 

Leave a comment

Your email address will not be published.