गिरिडीह झारखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के मांग के अनुरूप झारखंड अधिविद्द परिषद द्वारा उत्तरपुस्तिका मूल्यांकन कार्य के बदले पारिश्रमिक भुगतान संबंधी दिशानिर्देश अब तक जारी नही किए जाने के विरोधस्वरूप 21 जुलाई 2022 को मूल्यांकन केंद्र गिरिडीह+2 उच्च विद्यालय गिरिडीह में उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन को थोड़ी देर रोक कर परीक्षकों द्वारा विरोध जताया गया।

विदित हो कि झारखंड अधिविद्य परिषद, राँची द्वारा वर्ग नवम एवं ग्यारहवीं की परीक्षा एवं उत्तरपुस्तिका मूल्यांकन के बदले अभी तक शिक्षकों एवं कर्मचारियों को पारिश्रमिक देने संबंधी किसी तरह का निर्देश एवं सूचना नहीं है। इस कारण शिक्षकों एवं कर्मचारियों के बीच रोष व्याप्त है। इस मामले को लेकर झारखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष देवेन्द्र कुमार सिंह ने जैक सचिव को पत्र लिखकर मामले से अवगत कराया है और वीक्षण कार्य एवं उत्तरपुस्तिका के मूल्यांकन के बदले पारिश्रमिक की व्यवस्था करने की माँग की थी।

जिला सचिव राजेंद्र प्रसाद ने कहा कि यदि जैक द्वारा इस सम्बंध में यथाशीघ्र पहल नहीं की गई तो जिले के माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षक उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन का पूर्ण बहिष्कार करने का निर्णय ले सकते हैं जिसकी सम्पूर्ण जबावदेही झारखण्ड अधिविद्य परिषद की होगी। विरोध जताने वालों में झारखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के जिला सचिव राजेन्द्र प्रसाद,+2 शिक्षक संघ के दयानंद कुमार, शीतल कच्छप, निर्मल कुमारी, मीनु शर्मा,श्वेता कुमारी, उपेन्द्र कुमार राय, ओजरा ज़लील सहित कई शिक्षक शिक्षिकायें शामिल थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.