नयी दिल्ली। 7th Pay Commission latest News:  महंगाई के इस दौर में केंद्रीय कर्मचारियों को जल्द ही बढ़े हुए महंगाई भत्ता की खुशखबरी मिलने वाली है। हालांकि ये तय है कि महंगाई भत्ता साल में दो बार बढ़ना ही है, लेकिन दिलचस्पी इस बात की रहती है कि DA में बढ़ोत्तरी कितने प्रतिशत होगी। जनवरी में DA  बढ़ चुका है और अब इंतजार जुलाई में बढ़ने वाले DA का है। कर्मचारियों का महंगाई भत्ता तय करने वाले  AICPI इंडेक्स के आंकड़े इस बात की तरफ से इशारा कर रहे हैं कि केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता इस बार 4 प्रतिशत बढे। 31 मई को AICPI के नये नंबर आने वाले हैं, ऐसे में जुलाई में बढ़ने वाले महंगाई भत्ता को लेकर रूझान 31 मई को मिल जायेगा।

केंद्रीय कर्मचारियों को फिलहाल 34प्रतिशत महंगाई भत्ता मिल रहा है, लेकिन अगला महंगाई भत्ता रिवाइज होना है। जिसका ऐलान अगस्त 2022 में हो सकता है। अभी केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ता 34 प्रतिशत मिल रहा है। झारखंड, राजस्थान, बिहार सहित अधिकांश राज्यों ने केंद्र के समान महंगाई भत्ता कर दिया है, सिर्फ छत्तीसगढ़ की एकमात्र ऐसा राज्य है, जहां कर्मचारियों को केंद्र की तुलना में 12 प्रतिशत कम महंगाई भत्ता मिल रहा है। छत्तीसगढ़ में अभी कर्मचारियों को 22 प्रतिशत DA  मिल रहा है। AICPI अगर बढ़े हुए इंडेक्स को बताता रहा, तो माना जा सकता है कि जुलाई में केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़कर 34 से 38 प्रतिशत हो जायेगा। केंद्र के महंगाई भत्ता बढोत्तरी के ऐलान के बाद राज्य सरकार भी अपने कर्मचारियों को DA की सौगात 34 से बढ़ाकर 38 प्रतिशत कर देगी।

AICPI  यानि All india Consumer Index के आंकड़े 31 मई को आयेंगे। अप्रैल के नंबर अपडेट होंगे, जिसमें जाहिर तौर पर तेजी देखने को मिलेगी। लेबर मिनिस्ट्री के तीन महीने के नंबर आ चुके हैं। जनवरी-फरवरी में इसमें हल्की गिरावट थी। जनवरी में घटकर 125.1 रहा था। वहीं फरवरी में 125 हो गया है। मार्च में ये आंकड़ा बढ़कर 126 पर पहुंच गया। अगर 31 मई को अगर इसमें 1 अंक की और बढोत्तरी होती है, जून का आकलन किया जायेगा और फिर जुलाई के बाद आंकड़ों के आधार पर महंगाई भत्ता में बढोत्तरी का ऐलान कर दिया जायेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.