पटना : देश में अचानक बदले मौसम ने लोगों को गरमी से राहत तो दी है, लेकिन कई जिलों में ये मौसम मौत बनकर टूटी है। बिहार से आंधी-तूफान में 33 लोगों की मौत है। मौसम के मिजाज के बीच 33 लोगों की मौत ने लोगों को दहशत में डाल दिया है। इधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में हुई मौत पर दुख जताते हुए, प्रभावित लोगों के लिए 4-4 लाख रूपये के मुआवजे का ऐलान किया है। बिहार में कुछ घंटे की ही बारिश-आंधी से 16 जिलों में ये 33 मौते हुई है। इधर जिला प्रशासन की तरफ से राहत का काम जारी है।

भागलपुर में ज्यादा 7 मौतें हुई है। भागलपुर में आधी-तूफान से अब तक 7 लोगों की जान गयी है, जबकि कई लोग घायल भी है। ये सभी लोग आंधी-तूफान का शिकार हुए हैं। मुजफ्फरपुर में भी भी तक 6 लोगों की मौत हुई है। वहीं अलग-अलग जिलों से मौत के अलग-अलग आंकड़े सामने आये हैं।

नीतीश कुमार ने मौसम की वजह से हादसे का शिकार हुए लोगों के प्रति दुख जताते हुए लिखा है कि राज्य के 16 जिलों में आंधी में वज्रपात से 22 लोगों की मृत्यु दुखद है। आश्रितों को तत्काल 4-4 लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने और आंधी एवं वज्रपात से हुई घर क्षति और फसल क्षति का आकलन कर प्रभावित परिवारों को जल्द से जल्द सहायता राशि उपलब्ध कराने का निर्देश भी दिया गया है। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है की मौसम विभाग की चेतावनी को गंभीरता से लेंगे और सावधानी बरतें।

मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि खराब मौसम को लेकर अगर चेतावनी दी जाती है तो निर्देशों का जरूर पालन करें, साथ ही वज्रपात से बचने के लिए जो नियम है, उन नियमों का सावधानी पूर्वक पालन करें। मुख्यमंत्री ने अपील की है कि खराब मौसम में घर पर ही रहें। इधर खराब मौसम की वजह से जन जीवन बुरी तरह से प्रभावित रहा। कई जगहों पर सड़क पर पेड़ गिर गये, वहीं बिजली भी घंटों बाधित रही। प्रशासन की तरफ से लगातार पेड़ों को हटाने का काम किया जा रहा है। वहीं बिजली आपूर्ति को भी शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published.