JOB In Hotel Industry: होटल और टूरिज्म सेक्टर में कोविड के दौर की मंदी का असर गायब हो रहा है. उस समय जब इस क्षेत्र में भयानक छंटनी हुई थी, वहीं अब ये रोजगार पैदा करने की मशीन बनता जा रहा है. आने वाले 12 से 18 महीनों में इस सेक्टर में 2 लाख तक रोजगार पैदा होने की संभावना है. इसमें मध्यप्रदेश के उज्जैन से लेकर उत्तराखंड की चारधाम यात्रा तक शामिल है. इन सभी जगहों पर बीते कुछ सालों में ट्रैवल बढ़ा है. इस वजह से होटल और टूरिज्म सेक्टर में नौकरी बढ़ रही हैं.

स्टाफिंग सर्विस कंपनी टीमलीज सर्विसेस की एक रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि होटल, रेस्टोरेंट और टूरिज्म सेक्टर में अगले 12 से 18 महीने में 2 लाख से अधिक नौकरियां जेनरेट होंगी. इसमें में भी करीब 1 लाख नौकरी सिर्फ होटल इंडस्ट्री में पैदा होंगी. रिपोर्ट में कहा गया है कि होटल इंडस्ट्री अपनी वर्कफोर्स में इजाफा कर रही है. होटल कंपनियां नए मार्केट में एंट्री कर रही हैं, जिसकी वजह से होटल कमरों की संख्या बढ़ रही है. इसकी वजह से इस सेक्टर में जॉब्स बढ़ रही हैं.

भारत में मई से जुलाई की शुरुआत तक करीब दो महीने स्कूल-कॉलेज की छुट्टियों के होते हैं. ऐसे में फैमिली ट्रैवल बहुत होता है और ये टूरिज्म सेक्टर का पीक सीजन होता है. इस दौरान डिमांड बहुत बढ़ती है. इस साल पीक सीजन में छुट्टियों से जुड़ी डिटेल्स की सर्च बढ़ी है. वहीं इस दौरान नौकरी खोजने वालों की संख्या में 20 से 30 प्रतिशत की ग्रोथ दर्ज की गई है.

 मिड-टियर रॉयल ऑर्किड होटल्स इस साल अपनी विभिन्न संपत्तियों में लगभग 2,000 कमरे जोड़ने की योजना बना रहे हैं और विभिन्न स्तरों पर कुल मिलाकर लगभग 5,000 लोगों को नियुक्त करने पर विचार कर रहे हैं. उद्योग के अधिकारियों और स्टाफिंग कंपनियों ने कहा कि नौकरी छोड़ने वालों की संख्या भी अधिक है. अधिकांश छोटे और मध्य स्तर के होटलों में प्रति माह 30 से 50 फीसदी तक – जिसके कारण रिप्लेसमेंट नियुक्तियों में वृद्धि हुई है. रॉयल ऑर्किड की तीन नए ब्रांड लॉन्च करने की योजना है, जिसमें एक नया महंगा पांच सितारा ब्रांड भी शामिल है, जिसके लिए उसने मुंबई में 300 कमरों वाली एक नई संपत्ति पर हस्ताक्षर किए हैं. इसका वर्तमान पोर्टफोलियो लगभग 6,000 कमरों वाले 100 से अधिक होटलों का है. इसकी आगामी 2,000 कमरों वाली अधिकांश सूची पश्चिमी भारत में होगी, इसके बाद उत्तर और पूर्व में होगी.

हर खबर आप तक सबसे सच्ची और सबसे पक्की पहुंचे। ब्रेकिंग खबरें, फिर चाहे वो राजनीति...