रांची/रायपुर: झारखंड की पालिटिक्स इन दिनों रायपुर शिफ्ट हो गयी है। झारखंड के 32 विधायक सहित कुल 41 पार्टी के नेता रायपुर के होटल मेफेयर पहुंचे हुए हैं। रात करीब 9 छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी झारखंड के यूपीए विधायकों से मिलने गये थे। करीब 40 मिनट तक मुख्यमंत्री ने अलग-अलग विधायकों से बात की। उन्होंने कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम से भी बातचीत की। हालांकि देर रात मुख्यमंत्री ने इसे लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। आज सुबह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल हिमाचल के लिए रवाना हुए, तो उन्होंने मीडिया के सामने झारखंड की राजनीति को लेकर भाजपा पर तीखा बयान दिया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि …

झारखंड के विधायक आये हैं और भारतीय जनता पार्टी जिस तरह से हार्स ट्रेडिंग कर रही है। आपने देखा होगा की किस तरह से पश्चिम बंगाल में तीन विधायक पकड़ाये। अभी भी जिस तरह से चर्चा चल रही है, कि इलेक्शन कमीशन ने कोई पत्र दिया है। एक सप्ताह हो गया है, राजभवन से वो लिफाफा खुल ही नहीं रहा है। तो, इसका मतलब ही यही है कि अंदरखाने में कुछ पक रहा है। ऐसे में वहां की दोनों पार्टियों ने झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस पार्टी ने अपने विधायकों को सुरक्षित रखने का फैसला लिया। छत्तीसगढ़ आये हैं हम उनका स्वागत करते हैं।

वहीं रमन सिंह के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री ने भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह पर जमकर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि रमन सिंह की तकलीफ ये है कि यहां विधायकों को सुरक्षित रखा गया है और उन्हें खरीद फरोख्त करने का मौका नहीं मिल रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ने जिस तरह से महाराष्ट्र में बात चल रही है 50 खोखा, झारखंड में चल रहा है 20-20 खोखा, इसके बारे में बतायें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह को बताना चाहिये। उन्होंने कहा कि …..

रमन सिंह को ये देखना चाहिये कि कर्नाटक के विधायक, मध्यप्रदेश के विधायक, राजस्थान के विधायक, महाराष्ट्र के विधायक जो दूसरी पार्टी के थे, उन्हें उठा-उठाकर ले गये। उस समय उनकी बोलती बंद क्यों थी। वो चुप क्यों थे, उन्हें उस वक्त बोलना था। ये तो हमारी पार्टी के लोग है, हमारे गठबंधन के लोग हैं। उसमें उन्हें तकलीफ क्यों हैं। उनको तकलीफ ये है कि वहां वो खरीद फरोख्त करते। जिस तरह से महाराष्ट्र में बात चल रही है 50 खोखा, झारखंड में चल रहा है 20-20 खोखा, इसके बारे में बतायें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जी।

Leave a comment

Your email address will not be published.