गढ़वा। समुदाय विशेष के दवाब में स्कूलों में प्रार्थना बदलने वाले दो शिक्षकों की छुट्टी हो गयी है। दोनों शिक्षकों के खिलाफ विभाग ने कार्रवाई करते हुए उन्हें उनके मौजूदा स्कूल से हटा दिया है। दरअसल गढ़वा के कोरवाडीह गांव के राजकीय उत्क्रमित विद्यालय में समुदाय विशेष के दवाब में प्रार्थना ही बदल दिया गया था। यहां स्कूलों में प्रार्थना के वक्त बच्चे हाथ भी नहीं जोड़ते थे। इस मामले में सोशल मीडिया पर फोटो वायरल हुआ था। मीडिया में भी इस मामले को लेकर खबरें प्रकाशित हुई थी।

जिसके बाद गढ़वा जिला शिक्षा अधिकारी की तरफ से मामले की जांच करायी गयी और दोनों शिक्षकों को तत्काल प्रभाव से हटाने का आदेश दिया गया। राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक युगेश्वर राम को हटाकर गढ़वा के उत्क्रमित मध्य विद्यालय उड़सुग्गी भेजा गया है। वहीं सहायक शिक्षक विनोद कुमार सिंह को प्रभारी प्रधानाध्यापक बबनाया गयाहै। वहीं एक अन्य शिक्षक करामत अली अंसारी को हटा दिया गया है। उन्हें प्राइमरी स्कूल ओझाडीह में भेजा में गया है। उन दोनों के स्थान पर शिक्षक गोहर अली खां तथा नीरज कुमार मिश्रा को कोरवाडीह स्कूल भेजा गया है।

आपको बता दें कि कोरवाडीह स्कूल में प्रार्थना को बदल देने और प्रार्थना के समय हाथ नहीं जोड़ने के मामले को मीडिया ने जमकर प्रकाशित किया था। जिसके बदा शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने मामले में सज्ञान लेते हुए डीईओ से मामले में जानकारी ली थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.