पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का रास्ता रोकर प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था की पोल खोलने वाला सोनू इन दिनों खूब चर्चा में है। सोनू के नाम पर बिहार में जमकर राजनीति भी हो रही है। पूर्व सांसद पप्पू यादव ने सोनू के गांव हरनौत के निमाकोल पहुंचकर उसे 50 रूपये की मदद की। इस दौरान उन्होंने बिहार सरकार पर जमकर निशाना साधा। पप्पू यादव ने पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वो अपने बाडीगार्ड को तो नहीं खिला पाये, उनके तीन हजार रूपये महीना में क्या होगा।

इससे पहले सोनू कुमार से डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने भी मुलाकात की थी और उन्होंने सोनू को सम्मानित भी किया था। मीडिया के सामने सुशील मोदी ने कहा था कि वो हर महीने सोनू के बैंक खाते में 2-3 हजार रूपया भेज दिया करेंगे, जिससे पढ़ाई का अतिरिक्त खर्च जुट सके। उन्होंने सरकारी लाभ दिलाने का भी भरोसा दिलाया था।

पिछले दिनों नालंदा दौरे के दौरान मुख्यमंत्री का रास्ता रोककर सोनू कुमार ने कहा था कि उसके पिता दही बेचने का काम करते हैं और उसी कमाई से शराब पी जाते हैं। मुख्यमंत्री से शिकायत करते हुए सोनू ने कहा था कि पापा शराब पीते हैं और वो जो ट्यूशन पढ़ाकर पैसे लाता है, उसका भी शराब पी जाते हैं। अगर सरकार मदद करें तो वो पढ़ लिखकर आईएएस आईपीएस बनना चाहता है।

इससे पहले लालू के बेटे तेज प्रताप ने भी वीडियो काल के जरिये सोनू से बात की थी। तेज प्रताप ने सोनू की जमकर तारीफ की इस दौरान तेज प्रताप ने कहा कि स्कूल में तुम्हारा एडमिशन करा देंगे। सोनू से तेज प्रताप ने कई सवाल पूछा। बात-बात में तेज प्रताप ने कहा कि जब तुम बड़ा होकर आईएएस आईपीएस बनना तो मेरे अंडर में काम करना। इस पर सोनू ने कहा कि वो किसी के अंदर में काम नहीं करेगा।  

Leave a comment

Your email address will not be published.