जयपुर । राजस्थान के मंत्री महेश जोशी के बेटे रोहित जोशी पर महिला पत्रकार के लगाये रेप के मामले पर अब हाईकोर्ट में याचिका दायर की गयीहै। मंत्री के बेटे रोहित जोशी ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि रेप का मामला दरअसल हनीट्रैप से जुड़ा है। याचिका में युवती पर ब्लैकमेल के आरोप लगाये गये हैं। दिल्ली हाईकोर्ट में दायर याचिका में रोहित ने कहा है कि युवती के साथ उसकी दोस्ती फेसबुक पर हुई थी। दोनों आपसी सहमति से संबंध बनाये। इस दौरान युवती उस पर लिव इन में रहने और पत्नी से तलाक लेने का दवाब बनाने लगी।

जयपुर । राजस्थान के मंत्री महेश जोशी के बेटे रोहित जोशी पर महिला पत्रकार के लगाये रेप के मामले पर अब हाईकोर्ट में याचिका दायर की गयीहै। मंत्री के बेटे रोहित जोशी ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि रेप का मामला दरअसल हनीट्रैप से जुड़ा है। याचिका में युवती पर ब्लैकमेल के आरोप लगाये गये हैं। दिल्ली हाईकोर्ट में दायर याचिका में रोहित ने कहा है कि युवती के साथ उसकी दोस्ती फेसबुक पर हुई थी। दोनों आपसी सहमति से संबंध बनाये। इस दौरान युवती उस पर लिव इन में रहने और पत्नी से तलाक लेने का दवाब बनाने लगी।

याचिका में रोहित ने बताया कि वो युवती से शादी करना चाहता था, लेकिन पिता इसके लिए राजी नहीं हुए। रोहित की ओर से दायर याचिका में कहा गया था कि फेसबुक पर युवती ने ही उसे दोस्ती के लिए प्रस्ताव भेजा था, जिसे रोहित ने स्वीकार कर लिया। जनवरी 2021 से दोनों एक दूसरे को जानते थे। सवाई माधोपुर में पहली दोनों शारीरिक संबंध बना। ये दोनों की रजामंदी से बना हुआ फिजिकल रिलेशन था। फरवरी 2022 में ब्लैकमेल कर जयपुर में लिव इन का दवाब बनाया।

रोहित ने आरोप लगाया कि वो तो युवती के साथ शादी करना चाहता था, लेकिन उसके पिता ने इसकी रजामंद नहीं दी। रोहित ने कहा कि युवती उसे फंसा रही है, इसकी जानकारी उसे नहीं थी। याचिका में रोहित ने कहा कि वो मैं पत्नी से तलाक लेकर युवती से शादी करना चाहता था। युवती की ओर से दर्ज एफआईआर को गलत बताते हुए उसे रद्द करने की मांग की है।

याचिका में रोहित ने बताया कि वो युवती से शादी करना चाहता था, लेकिन पिता इसके लिए राजी नहीं हुए। रोहित की ओर से दायर याचिका में कहा गया था कि फेसबुक पर युवती ने ही उसे दोस्ती के लिए प्रस्ताव भेजा था, जिसे रोहित ने स्वीकार कर लिया। जनवरी 2021 से दोनों एक दूसरे को जानते थे। सवाई माधोपुर में पहली दोनों शारीरिक संबंध बना। ये दोनों की रजामंदी से बना हुआ फिजिकल रिलेशन था। फरवरी 2022 में ब्लैकमेल कर जयपुर में लिव इन का दवाब बनाया।

रोहित ने आरोप लगाया कि वो तो युवती के साथ शादी करना चाहता था, लेकिन उसके पिता ने इसकी रजामंद नहीं दी। रोहित ने कहा कि युवती उसे फंसा रही है, इसकी जानकारी उसे नहीं थी। याचिका में रोहित ने कहा कि वो मैं पत्नी से तलाक लेकर युवती से शादी करना चाहता था। युवती की ओर से दर्ज एफआईआर को गलत बताते हुए उसे रद्द करने की मांग की है।

Leave a comment

Your email address will not be published.