जमुई । स्कूल से लौट रहे हेडमास्टर का सरेराह अपहरण कर लिया गया है। किडनैपर ने छोड़ने के एवज में 15 लाख रूपये की फिरौती मांगी है। मामला बिहार के जमुई का है। जानकारी के मुताबिक शिक्षक स्कूल से आफिशियल काम से अपने बाइक से निकले थे, इसी दौरान बीच रास्ते से ही उनका किडनैप कर लिया गया। मामले में अब पुलिस जांच में जुट गया है। इधर अपहरण के लिए आये फिरौती के फोन के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

जमुई के उत्क्रमित मध्य विद्यालय बाघमारा के प्रभारी हेडमास्टर उपेंद्र प्रसाद सिंह का अपहरण कर लिया गया है। देवघर के जसीडीह में रहने वाले उपेंद्र प्रसाद सिंह शुक्रवार के दिन स्कूल से घर जाने के लिए निकले थे लेकिन रास्ते से ही लापता हो गए। इसी बीच देर रात हेडमास्टर के ही मोबाइल से एक अनजान शख्स ने अपहरण कर लेने की जानकारी दी और छोड़ने के एवज में 15 लाख की फिरौती मांगी।

बांका जिले के बेलहर इलाके के रहने वाले 45 वर्षीय उपेंद्र प्रसाद सिंह का पूरा परिवाह देवघर के जसीडीह में रहता है। हर दिन अपनी बाइक से वो जमुई जिले के चंद्रमंडी थाना क्षेत्र स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय बाघमारा आते -जाते हैं। उत्क्रमित मध्य विद्यालय बाघमारा से शुक्रवार को वो करीब 1:00 बजे अपने ऑफिशियल काम से चकाई जाने के लिए निकले। जहां से काम के बाद वो अपने घर जसीडीह लौटने वाले थे। लेकिन शुक्रवार की देर शाम तक जब वो घर नहीं पहुंचे तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की।

प्रभारी हेड मास्टर उपेंद्र प्रसाद सिंह और उनकी बाइक कहां है? यह जानकारी परिजनों को नहीं है। जानकारी के मुताबिक देर रात प्रभारी हेड मास्टर के ही मोबाइल से परिवार वालों को फोन कर किसी ने अपहरण की खबर दी और छोड़ने की एवज में 15 लाख की फिरौती की मांग की। फिरौती की मांग के बाद परिवार वालों के होश उड़ गये। आनन-फानन में पुलिस को इसकी सूचना दी गयी। जिसके बाद अब पुलिस जांच में जुटी है। खबर लिखे जाने तक प्रभारी हेड मास्टर का अब तक कोई सुराग नहीं मिल सका है।

Leave a comment

Your email address will not be published.