रांची। राज्यसभा सांसद महुआ माजी ने आज शपथ ले लिया है। राज्यसभा में उन्होंने शपथ लिया। वो झारखंड की पहली महिला राज्यसभा सांसद है। झारखंड मुक्ति मोर्चा के कोटे से उन्हें संसद में जाने का मौका मिला है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने उनके शपथ ग्रहण पर ट्वीट करते हुए लिखा है…

माननीय राज्यसभा सांसद के रूप में शपथ लेने के लिए श्रीमती @maji_mahua जी को अनेक-अनेक बधाई और शुभकामनाएं। आप संसद में झारखण्ड के गरीब, वंचित, आदिवासी, दलित, पिछड़े, अल्पसंख्यक, युवा, महिला और किसान से जुड़े मुद्दों को उठाते रहें, यही आशा करता हूँ। जोहार!

महुआ माजी का शपथ लेते वीडियो झारखंड मुक्ती मोर्चा के आफिशियल ट्वीटर एकाउंट पर शेयर किया गया है।

महुआ माजी के बारे में जानिये

महुआ माजी हिंदी की वरिष्ठ साहित्यकार और जेएमएम की महिला मोर्चा की केंद्रीय अध्यक्ष हैं. उन्हें राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष के तौर पर उन्हें राज्यभर की महिलाओं से जुड़ने का मौका मिला और वह उनकी पीड़ा से भलीभांति वाकिफ हैं. सीएम सोरेन ने उनके काम को देखते हुए उन्हें टिकट दिया है. वह जेएमएम महिला इकाई की प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुकी हैं. वह रांची विधानसभा सीट से चुनाव भी लड़ चुकी हैं हालांकि इस चुनाव में वह हार गई थी।


आपको बता दें कि महुआ माजी समाजशात्र में स्नातकोत्तर और पीएचडी हैं। वह अपने पहले उपन्यास मैं बोरिशाइल्ला से ही चर्चा में आ गई थीं। यह बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम की पृष्ठभूमि पर लिखी गई थी।उनका दूसरा उपन्यास- मरंग गोड़ा नीलकंठ हुआ भी चर्चित रहा, जो जादूगोड़ा में यूरेनियम खनन पर केंद्रित था। डॉ महुआ माजी की कहानियां- वागर्थ, हंस, नया ज्ञानोदय समेत हिन्दी की अन्य साहित्यिक पत्र-पत्रिकाओं में छपती रही हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.