धनबाद जिले के निरसा थाना में कुक का काम करने वाले 30 वर्षीय सेंटू चक्रवर्ती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजन थाना में शव रखकर प्रदर्शन किया। परिजनों का आरोप है कि रसोईया की पत्नी के साथ ASI का अवैध संबंध था। इसी वजह से उसकी मौत हुई है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है सेंटू अपनी पत्नी के साथ निरसा थाना में खाना बनाने का काम करता था।

सेंटू की मौत के बाद उसके परिजन ने उसकी पत्नी व थाना के एक एएसआई अविनाश पांडे के ऊपर हत्या का आरोप लगाया है। परिजनों का आरोप है अविनाश के साथ रसोईया के पत्नी का नाजायज संबंध था। पत्नी और एएसआई अविनाश सेंटू को मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे, और उसके साथ मारपीट भी करते थे। इस घटना के बाद परिजन शव लेकर थाना पहुंच गए। परिजनों के द्वारा थाना में शव के साथ हंगामा किया। आरोपी एएसआई पर कार्रवाई की मांग की।

क्या है मामला

मृतक सेंटू चक्रवर्ती के परिजनों ने बताया कि 7 साल पहले उसकी शादी हुई थी। सेंटू और उसकी पत्नी निरसा थाना में खाना बनाने का काम करते थे। निरसा थाना में पदस्थापित एएसआई अविनाश कुमार के साथ उसकी पत्नी का अवैध संबंध था। इस बात की जानकारी सेंटू को भी हो गई थी। इसको लेकर सेंटू और उसके पत्नी में हमेशा कहासुनी होती रहती थी। पत्नी के द्वारा यह बात थाना के एएसआई को बताई गई। जिसके बाद सेंटू के साथ मारपीट भी की गई। पत्नी के कारण वह काफी परेशान रहता था। सेंटू ससुराल में ही अपनी पत्नी के साथ रहता था। सेंटू का ससुराल कालीमाटी विष्णुपुर में है। अपने ससुराल में ही रहकर थाना में खाना बनाने का काम किया करता था। मृतक के भाई ने बताया कि थाना में दोनों पति-पत्नी का सुलहनामा भी कराया गया था। जिसमें थाना की पुलिस मौजूद थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.