रांची। झारखंड के विधायक आज रायपुर से वापस रांची लौट सकते हैं। पिछले चार दिनों से झारखंड के विधायक रायपुर के फाइव स्टार रिसार्ट में रूके हैं। आरोप है कि झारखंड की राजनीतिक अस्थिरता के बाच झारखंड में विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिश की जा रही है। विधायकों को एकजुट रखने और गठबंधन को बचाने के लिए यूपीए ने अपने विधायकों को रायपुर में रूकवाया है। खुद शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने इस बात के संकेत दिये हैं कि सभी विधायक घूमने गए हैं कल सभी वापस आ जाएंगे. हमारी संख्या बल है सरकार तो चलती ही रहेगी. कल वापस आ जायेंगे सभी विधायक परसो सदन की कार्यवाहीमें होंगे शामिल।

राजनीतिक स्थिति के बीच राज्यपाल रमेश बैस शुक्रवार को दिल्ली चले गये।  इससे एक दिन पहले सत्तारूढ़ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के विधायकों ने उनसे निर्वाचन आयोग (ईसी) की सिफारिश पर स्थिति स्पष्ट करने की अपील की थी।  राज्यपाल की दिल्ली यात्रा ने अटकलों को और हवा दे दी है।

बैस ने बृहस्पतिवार को यूपीए के प्रतिनिधिमंडल के साथ एक बैठक में कहा था कि वह जल्द ही सभी शंकाओं को दूर करेंगे. बहरहाल, राजभवन के सूत्रों ने बताया कि वह चिकित्सीय जांच के लिए ‘निजी यात्रा’ पर दिल्ली गये हैं. विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य ठहराने की भाजपा की याचिका के बाद निर्वाचन आयोग ने 25 अगस्त को अपना निर्णय बैस को भेज दिया था.

Leave a comment

Your email address will not be published.