रांची। हेमंत सोरेन सरकार ने पिछले कुछ महीनों में कर्मचारी हित में कई बड़े फैसले लिये हैं। हेमंत सरकार ने एक तरफ से जहां कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन बहाली का ऐलान कर दिया है, तो वहीं दूसरी तरफ नियुक्ति के दरवाजे भी खोले हैं। प्रदेश में लगातार नियुक्तियां चल रही है। इस दौरान कर्मचारियों के प्रमोशन को लेकर आ रही दिक्कतों को भी राज्य सरकार सुलझाने का प्रयास कर रही है।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पुरानी पेंशन आभार सभा को संबोधित करते हुए भी कर्मचारियों की हित को लेकर कई अहम बातें कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्मचारियोंके प्रमोशन को लेकर जो भी दिक्कतें आ रही है राज्य सरकार उसे सुलझाने का प्रयास करेगी।

नियुक्ति में आयी तेजी, प्रमोशन की रुकावटों को दूर किया

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य में अब सरकारी नियुक्ति में तेजी आयी है। सभी प्रकार के नियुक्ति पारदर्शी तरीके से की जा रही है। नियुक्ति प्रक्रिया में किसी भी प्रकार से भ्रष्टाचार का कोई जगह नहीं है। कई प्रतियोगिता-परीक्षाओं में देखा जा रहा है कि राज्य के बीपीएल परिवार के बच्चों ने भी नियुक्ति पायी है और बड़े अफसर बनने के सपने को पूरा किया है। हमारी सरकार ने सरकारी कर्मियों के प्रमोशन पर लगे रोक के पेंच को सुलझाने का काम किया है और अब कर्मियों को प्रमोशन दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कितने दु:ख की बात है कि लोग अपने हक-अधिकार मांगते-मांगते सरकार की उदासीनता का शिकार हुए थे। पूर्ववर्ती सरकारों की नाकामी की वजह से कई आंदोलनकारी कर्मियों की जान भी चली गई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने पारा शिक्षक, आंगनबाड़ी कर्मी सहित कई वर्गों के समस्याओं को सुलझाने का काम कर दिखाया है।

यूनिवर्सल पेंशन लागू करने वाला झारखंड पहला राज्य

मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य में सामाजिक सुरक्षा के तहत पेंशन योजना से जुड़ने वाले पात्र लोगों के लिए यूनिवर्सल पेंशन योजना लागू करने का काम हमारी सरकार ने किया है। झारखंड देश का पहला राज्य है जहां सर्वजन पेंशन योजना लागू की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की अर्थव्यवस्था वर्तमान में कैसी है यह हम सभी लोग देख रहे हैं। राज्य में कर्मचारी, आम जनता, किसान, मजदूर, चाहे व्यापारी सभी वर्ग के भविष्य की चिंता हमारी सरकार कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सरकार गठन के बाद ही वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण ने सभी को काफी डराया। सीमित संसाधनों के बावजूद हमारी सरकार ने कोरोना काल में जो कार्य कर दिखाया वो पूरे देश के लिए मिसाल रहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में सरकार ने जो काम किया उसका श्रेय सिर्फ सरकार को ही नहीं बल्कि आप सभी कर्मियों को भी जाता है। आप ही के बदौलत राज्य सरकार ने संक्रमण काल में भी दृढ़ निश्चय के साथ लोगों को राहत पहुंचाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर मार्गदर्शक सही हो तो राज्य का हर एक व्यक्ति सकुशल अपने मंजिल तक पहुंच सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.