पलामू : जिला के पाटन अंचल (PATAN BLOCK PLAMU) के अधिकारी और कर्मचारी के मनमाने तरीके से कार्य करने के रवैए की खबर अब राज्य सरकार तक पहुंच गई है । अंचल अधिकारी का कर्मचारियों पर कोई भी नियंत्रण नहीं है ,क्योंकि अंचल अधिकारी खुद अपने कार्य का निर्वहन नहीं करते । पूरे मामले में पलामू जिले के कमिश्नर जटाशंकर चौधरी ने सभी के खिलाफ कार्यवाही करने का आदेश दिया है । पलामू कमिश्नर जटाशंकर चौधरी ने पाटन के अंचल अधिकारी के खिलाफ आरोप पत्र गठित कर विभागीय कार्रवाई करने का आदेश दिया है ।

औचक निरीक्षण के दौरान पाई गई थी गड़बड़ी।

6 जुलाई को कमिश्नर जटाशंकर चौधरी ने पाटन अंचल से प्रखंड कार्यालय का औचक निरीक्षण किया था इस निरीक्षण के दौरान ही उन्हें उनकी अनियमितता का पता चला था । जिसके बाद उन्होंने बड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है ।कमिश्नर की जांच में यह पाया गया था कि अंचल कार्यालय के अधिकारी और कर्मचारी समय पर कार्यालय नहीं आते हैं ,और हाजरी बही अपने घर ले जाते हैं।

इनके खिलाफ होगी कार्रवाई

पूरे मामले में कमिश्नर ने अपर समाहर्ता को सभी कर्मचारियों के खिलाफ आरोप पत्र का गठन कर कार्यवाही करने का आदेश दिया है । कमिश्नर ने अंचल कार्यालय के अधिकारी को विस्तृत जांच करने का आदेश दिया है। साथ ही पाटन प्रखंड कार्यालय के पदाधिकारी और कर्मचारियों को समय पर उपस्थित नहीं रहने के कारण सभी को शोकॉज करने को भी कहा गया है । इस काम का जिम्मा कमिश्नर ने उप विकास उपायुक्त को दिया है । इसके अलावा उन्होंने सालों से प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी व प्रखंड गोदाम प्रबंधक का कार्य कर रहे जनसेवक अनिल कुमार को तत्काल प्रभाव से कार्यमुक्त कर दूसरे कर्मी को प्रभार देने का निर्देश दिया है।।

Leave a comment

Your email address will not be published.