रांची। OPS की जंग में NMOPS को जीत सुनिश्चित दिख रही है। मुख्यमंत्री का रूख और सरकार की तैयारी इस बात के संकेत दे रहा है कि 26 जून को मोहराबादी मैदान में महासम्मेलन के महामंच पर जीत का जयघोष जरूर होगा। लिहाजा, NMOPS की तरफ से OPS को लेकर बुलाये महासम्मेलन को यादगार और ऐतिहासिक बनाने की तैयारी जारी है। 12 जून को एक बार फिर से NMOPS की प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक हुई, जिसमें ना सिर्फ तैयारियों का जायजा लिया गया, बल्कि ज्यादा से ज्यादा कर्मचारियों की भागीदारी सुनिश्चित करने को लेकर भी चर्चा की गयी।

ITI हेहल में आयोजित प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत कुमार सिंह की अध्यक्षता में हुई। बैठक में 26 जून को आयोजित “जयघोष महासम्मेलन” की सफलता की रणनीति तैयार की गयी। बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत सिंह ने कहा कि ….

“पुरानी पेंशन की हमारी लड़ाई निर्णायक मोड़ पर है। 26 जून को कर्मचारियों को अपनी एकजुटता का प्रदर्शन करना है, हमें पूरा यकीन है कि 26 जून को मोहराबादी मैदान पर में इतिहास लिखा जायेगा, हमारी मांगे पूरी होगी। NPS का कलंक हमेशा-हमेशा के लिए मिट जायेगा और हमें पुरानी पेंशन की सौगात मिलेगी”

वहीं NMOPS के राज्य कोषाध्यक्ष ने PPT के माध्यम से राज्य कार्यकारिणी के सदस्यों, जिला संयोजकों, ज़िला कोषाध्यक्षों को उक्त तिथि को उनके आवंटित दायित्व एवं कर्तव्य से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि

“26 जून को हमारा ये महत्वपूर्ण कार्यक्रम है, ऐसे में हर पदाधिकारी को अपनी भूमिका सुनिश्चित करनी होगी, इस दौरान हजारों की संख्या में कर्मचारी पूरे प्रदेश से पहुंचेंगे, ऐसे में जरूरी है कि सभी की भागीदारी ज्यादा से ज्यादा हो”

आज की बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि पेंशन जयघोष महासम्मेलन के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु सभी जिला मुख्यालय के विभिन्न चौक चौराहों पर तोरण द्वार बनाया जायेगा। प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत सिंह ने बैठक के उपरांत राज्य के लगभग 2 लाख कर्मचारियों से आह्वान किया कि वो इस महासम्मेलन में भारी संख्या में शामिल हो, ताकि कर्मचारी एकजुटता का संदेश पूरे प्रदेश में जाये। उन्होंने सभी सदस्यों से अनुशासित ढंग प्रत्येक जिले के लिए निर्धारित स्थल से रैली की शक्ल में मोरहाबादी के फुटबॉल स्टेडियम तक पहुँचने के संदर्भ में दिशा-निर्देश दिये।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कार्यक्रम की सफलता सुनिश्चित करने हेतु विभिन्न समितियों का गठन किया गया है। बैठक के उपरांत कार्यकारिणी के सदस्यों ने कार्यक्रम स्थल का दौरा कर फुटबॉल ग्राउंड में अपने-अपने जिलों से आनेवाले कर्मचारियों के बैठने की व्यवस्था का अवलोकन किया। आपको बता दें कि “पेंशन जयघोष महासम्मेलन” में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन सहित कई मंत्री एवं विधायक, मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे। ये जानकारी NMOPS झारखंड के प्रांतीय मीडिया प्रभारी राजेंद्र प्रसाद ने दी है।

Leave a comment

Your email address will not be published.