पटना: कोतवाली थाना क्षेत्र से एक बड़ा ठग गिरफ्तार किया गया है। यह लोगों को झांसा देने के लिए कार के आगे स्टेट सेक्रेट्री बिहार, एंटी करप्शन ऑफ वर्ल्ड का बोर्ड लगाकर घूमा करता था। गिरफ्तार सातिर का नाम संजय कुमार उर्फ छोटे कृष्ण है। जो रिटायर शिक्षक का बेटा है। पुलिस ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। संजय कुमार लगातार कम पढ़े लिखे लोगों को लोन दिलवाने की बात कह उससे 10 हजार से लेकर 5 लाख तक ठगी करता था। अब तक वह खगड़िया में बेलदौर के रहने वाले 40 से अधिक लोगों से लाखों रुपए ठग क चुका है।

कैसे करता था ठगी

प्राप्त जानकारी के अनुसार इलाके की ही रहने वाली रेनू और सृजन कुमारी ने ठग से लोगों को वर्ष 2020 में मिलवाया था। इसने लोगों को कहा कि तीन लाख का लोन दिलवाएंगे उनमें से डेढ़ लाख रुपए की छूट मिल जाएगी तो लोग झांसे में आ गए। पहले इसने सबसे बैंक अकाउंट खुलवाने के नाम पर दो हजार लिए। फिर स्टांप पेपर के नाम पर 2000 रुपए लिए। इसके बाद 560 रजिस्ट्रेशन के नाम पर वसूले। फिर कहा कि सभी को अकाउंट मेंटेन रखना होगा, इस नाम पर सभी से चालीस चालीस हजार लिए। बाद में जीएसटी के नाम पर पांच पांच हजार की वसूली की। लोगों को ठगी करने के लिए लोन लेने की चाह रखने वालों के कई ग्रुप बना दिए। हर ग्रुप में 14 लोग होते थे। लोगों को ठगी का एहसास तब हुआ जब समय बीतता गया और ना ही उन्हें लोन मिला और ना ही अकाउंट का पासबुक या दूसरा डॉक्यूमेंट।

बाइक दिलाने का भी झांसा देकर ठगी करता था

इसके अलावे वह कम पैसों में बाइक दिलाने का भी झांसा देकर ठगी करता था। ठगी का इसका दूसरा तरीका यह था कि एक लाख की बाइक 50 हजार में दिलवाने का झांसा देकर कई लोगों से 50- 50 हजार ले लिया करता था। उन्हें बाइक भी दिलवाई पर बाइक ईएमआई पर थी और इस बारे में लोगों को पता ही नहीं था।

इंजीनियरिंग कर रहा पढ़ाई पकड़ा गया साबिर संजय कुमार उर्फ छोटे कृष्ण पटना जिले में बाढ़ के आदमपुर का रहने वाला है इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा है पुलिस की मानें तो संजय इतना शातिर है कि इसने रिटायर्ड शिक्षक अपने पिता तक को नहीं छोड़ा है अलग-अलग वाहनों से पेंशन की रुपए भी उनसे थक चुका है

Leave a comment

Your email address will not be published.